केन्द्रीय पर्यवक्षकों के सामने नारेबाजी अनुशासनहीनता: शांता कुमार

शिमला। शिमला में केन्द्रीय पर्यवक्षकों के सामने प्रो. प्रेम कुमार धूमल और जयराम ठाकुर के समर्थकों द्वारा नारेवाजी किए जाने पर भाजपा के वरिष्ठ नेता व सांसद शांता कुमार ने कहा है कि यह सीधे-सीधे अुनशासनहीनता का मामला है। शांता ने कहा कि अगर मैं अध्यक्ष होता तो कवतो नारेबाजी करने वाले कार्यकर्ताओं को बाहर का रास्ता दिखा देता। शांता जिस वक्त पीटरहॉफ पहुंचे तो वहां नारेबाजी कर रहे धूमल-जयराम के समर्थकों ने पर्यवेक्षकों को घेर रखा था। इससे पहले ऐसी ही नारेबाजी बीते कल भी हो चुकी है। शांता इस सबको लेकर बेहद खफा हैं।

shimla
shimla

बता दें कि पर्यवेक्षकों के साथ बैठक के बाद शांता कुमार ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर अपनी राय दे दी है, अब जो भी फैसला होगा वो केंद्रीय हाईकमान तय करेगा। केन्द्रीय पर्यवेक्षकों नरेंद्र तोमर और निर्मला सीतारमण ने आज भी हिमाचल भाजपा सांसदों के साथ बैठक कर सबकी राय जानी। केन्द्रीय पर्यवेक्षक अब दिल्ली जार हाईकमान को सबकी राय बताएंगे जिस पर संसदीय बोर्ड अंतिम निर्णय लेगा।

वहीं हिमाचल में इस बार भाजपा ने 44 सीटें जीती हैं। जबकि भाजपा को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार धूमल सुजानपुर से चुनाव हार गए हैं। सिराज से पांचवीं वार विधायक चुके गए जयराम ठाकुर और केन्द्रीस स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकश नड्डा का नाम सबसे ऊपर चल रहा है।