‘शिवाय’ के ट्रेलर में है निराश करनेवाला बर्फीला एक्शन

मुंबई। अजय देवगन की फिल्म ‘शिवाय’ का बहुप्रतीक्षित ट्रेलर जारी हो गया है, जिसका निर्देशन भी उन्होंने ही किया है। चार मिनट लंबी यह ट्रेलर शुरु से अंत तक तनावपूर्ण है। जैसा कि उम्मीद थी, ट्रेलर में हर जगह अजय ही छाए हुए हैं। ना सिर्फ विजुअल में, बल्कि वॉयस ओवर में भी अजय की ही आवाज सुनाई देती है। इससे पता चलता है कि वह विध्वंसक शिव की भूमिका में हैं। शिवाय में अच्छे और बुरे के बीच की जो लड़ाई है, उसे बर्फीले पहाड़ों में फिल्माया गया है, जो एक अंधकारमय और निराशाजनक मूड बना देता है।

AJAY DEVDUN

हमेशा से बर्फीली लोकेशन पर एक्शन फिल्म फिल्माना अच्छा विचार नहीं माना जाता रहा है। बर्फीली पहाड़ियों पर एक्शन दृश्य फिल्म के कलाकारों के लिए खतरनाक हैं और ऊपर से इन दृश्यों का प्रभाव भी वैसा नहीं पड़ता, जैसा निर्देशक कल्पना करता है। ‘शिवाय’ का ट्रेलर देखकर पता चलता है कि अजय ने एक्शन हीरो की भूमिका आत्मविश्वास से भरपूर और प्रभावी ढंग से निभाई है। फिल्म में कारों के हवा में टकराने के दृश्य वैसे ही हैं, जैसा कि रोहित शेट्टी की फिल्मों में होता है। लेकिन रोहित की फिल्मों के स्टंट मजेदार और दर्शनीय होते हैं, जो इस फिल्म में नहीं है।

यह शेट्टी की किसी एक्शन फिल्म का उदास और परिहासहीन संस्करण प्रतीत होता है। करीब साढ़े तीन मिनट के ट्रेलर में एक बार भी कोई मुस्कुराता चेहरा देखने को नहीं मिलता। हर कोई इस फिल्म में या तो खून करता या कत्ल होता दिखता है या फिर वो हत्यारों से बचने के लिए भाग रहा होता है। इस फिल्म में एक गोरी और नीली आंखों वाली किशोरी (जो फिल्म में अजय देवगन की बेटी प्रतीत होती है) जिसे एक आदमी बुरे तरीके से छूता नजर आता है और पीडोफाइल (बच्चों के प्रति यौनाकर्षण वाला) प्रतीत होता है। यह डार्क फिल्म उजाले के त्योहार दिवाली पर रिलीज होनेवाली है।