शाहजहांपुर के शेखर मिश्रा ने किया ‘मुकद्दरपुर का मजनू’ फिल्म का निर्देशन

शाहजहांपुर। तरूणायी की अवस्था में प्यार के चक्कर में बिगड़ते नवयुवकों को दिशा देती कामेडी पर आधारित पारिवारिक पृष्ठभूमि की बडे़ पर्दे की व्यवसायिक फिल्म ’मुकद्दरपुर का मजनू’ जिसका निर्देशन शाहजहांपुर के ही निवासी शेखर मिश्रा द्वारा किया गया है। यह फिल्म ऐसोसिएटेड ड्रीम फिल्म के बैनर तले बन चुकी है। यह फिल्म अम्बेडकर जयंती के अवसर पर 14 अप्रैल 2017 को पूरे भारत में एक साथ प्रदर्शित हो रही है।

फिल्म के निर्माता पद्मिनी अरूण सिंह गोरखपुर जनपद के बेलाघाट कस्बे के एक छोटे से गांव बिधनापार के निवासी है। इस फिल्म में अधिकांश कलाकार शाहजहांपुर जनपद के ही निवासी है। मुख्य किरदार निभाने वाले नायक साहिल अंसारी बिहार तथा बाल कलाकार आशुतोष सिंह सहित नायिका विधिपारिख, राहुल बग्गा, तरूण खन्ना, अरोन मित्रा, अर्षा गोस्वामी, विसाखा नेगी, योगेश पाण्डे, अभिषेक पाल मुख्य किरदार में हैं। फिल्म का संगीत सिद्धान्त शर्मा, गौरव सैन्डी, काशा श्वेता व सुमित बाली ने दिया है। गीत जावेद अली, नक्स अजीज, नीति मोहन, देव नेगी, प्रतिभा बघेल व आनन्द मेनन ने गाये हैं।

पांच गानों से भरपूर इस फिल्म की शूटिंग शाहजहांपुर लखनऊ व मुम्बई में हुई है। लगभग 4 करोड़ के लघु बजट की 2 घंटे 6 मिनट की यह फिल्म नाटक हन्नू हठेले से लड़की सेट क्यों नहीं होती की पटकथा पर आधारित इस फिल्म की थीम में एक नाई के युवा बेटे के प्यार की कहानी है। जो बड़े-बड़े सपनों को देखते हुए चार अलग अलग लड़कियों से प्यार करता है। किन्तु सफल नहीं होता। अचानक एक गूंगी लड़की से हुई मुलाकात उसका जीवन बदल देती है। हास्य रोमांस से भरपूर इस फिल्म का प्रमोशन होटल रॉयल पन्ना के सभागार में हुआ। इस अवसर पर फिल्म निर्माता पद्मिनी, अरूण सिंह व शेखर मिश्रा ने पत्रकारों से रूबरू होकर सारी जानकारी दी।

 -अभिषेक सिंह चौहान, शाहजहांपुर