राहुल गांधी से मिले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वघेला

नई दिल्ली। गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वाघेला ने शनिवार सुबह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से की मुलाकात। बैठक लगभग 45 मिनट तक चली बैठक। वाघेला पिछले कई माह से गुजरात प्रदेश कांग्रेस में अपनी उपेक्षा के चलते नाराज चल रहे हैं। गुजरात कांग्रेस के प्रभारी व राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नसे वाघेला कई मौके पर अपनी शिकायत जाहिर कर चुके हैं। वाघेला व राहुल गांधी की मुलाकात होने को लेकर राजनीतिक गलियारों में काफी सरगर्मी है।

लोकसभा व विधानसभा निरीक्षकों की बैठक में भी गहलोत ने तीखे तेवर बताते हुए कहा था कि वाघेला का आरएसएस बैकग्राउंड होने के बाद भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया, फिर केन्द्र में मंत्री तथा लोकसभा चुनाव हारने के बाद भी नेता विपक्ष बना दिया। भविष्य में पार्टी में बदलाव व मुख्यमंत्री के दावेदार का फैसला भी सोनिया गांधी ही करेंगी।

चर्चा है कि वाघेला समर्थक एक दर्जन विधायक कांग्रेस छोड़ने के मूड में हैं| वे राज्यसभा चुनाव में भाजपा का साथ देकर कांग्रेस के लिए मुसीबत खड़ी कर सकते हैं जिससे निपटने के लिए ही पिछले दिनों अहमद पटेल व अशोक गहलोत को अचानक अहमदाबाद से दिल्ली आना पड़ा। चर्चा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी व वाघेला की मुलाकात भी रद्द हो गई थी जिसके चलते शनिवार को वाघेला ने राहुल गांधी से मुलाकात की।

गौरतलब है कि पार्टी के कुछ विधायकों को टिकट कटने की आशंका है| कांग्रेस अपने सभी वर्तमान 57 विधायकों को विधानसभा चुनाव में रिपीट करेगी लेकिन वाघेला समर्थक विधायक पार्टी से अधिक अपने नेता के इशारे पर हैं| वाघेला के पुत्र विधायक महेंद्र सिंह वाघेला कभी भी पार्टी के साथ खड़े नजर नहीं आए जिससे भी कांग्रेस के प्रदेश आलाकमान चिंतित है।