शहाबुद्दीन ने किया नार्को और ब्रेन मैपिंग टेस्ट से इंकार: बिहार

मुजफ्फरपुर। राजदेव हत्याकांड में दोषी शहाबुद्दीन ने साफ-साफ शब्दों में मना करते हुए कही की वह नार्को टेस्ट, ब्रेन मैपिंग टेस्ट और लाइ डिटेक्टर टेस्ट नहीं करवाएंगे उन्होंने इन टेस्ट से साफ इंकार कर दिया है। पत्रकार राजदेव हत्याकांड में दोषी है शहाबुद्दीन ,शहाबुद्दीन पूर्व सांसद भी रह चुके हैं। दिल्ली के तिहाड़ जेल से आज मुजफ्फरपुर सीबीआइ की विशेष अदालत में शहाबुद्दीन की पेशी हुई जिसमें कोर्ट ने आज शहाबुद्दीन के सभी प्रकार के टेस्टों के लिए सीबीआई की अर्जी पर सुनवाई की।पेशी के वक्त शहाबुद्दीम ने टेस्ट का विरोध करते हुए कहा की मैने आठ दिनो के रिमांड के दौराम सीबीआई से कुछ भी नहीं छुपाया है और सभी सवालों के सही जवाब दिये है किसी बात को छुपा कर भी नही रखा है ।

सीबीआई के सवालों का सही जवाब देने पर भी ये सभी टेस्ट करवाना सही नहीं है,में ये सारे टेस्ट नही करवाउंगा शहाबुद्दीन ने कोर्ट में जज से कहा की सीबीआई रिमांड के दौरान उनसे हुई पूछताछ का रिजल्ट मांगा जाए और देखा जाऐ। उसके बाद कोर्ट जो भी फैसला करेगी वो में मामने को तैयार हूं।

शहाबुद्दीन ने सीबीआई पर आरोप लगाते हुए कहा की सीबीआई इस मामले में मुझे फसाने का प्रयास कर रही है। लेकिन उन्होंने बताया की वो इस मामले में पूरी तरह निर्दोष हैं। साथ ही साथ सीबीआई का कहना है की पूछताछ के दौरान शहाबुद्दीन बिलकुल भी साथ नहीं दे रहे थे।सांसद शहाबुद्दीन की ओर उनके अधिवक्ता दिलीप कुमार विशेष कोर्ट में उपस्थित होकर वकालतनामा (पावर ) पेश किया। उनके अधिवक्ता ने बताया कि कोर्ट ने उनकी बात सुनकर उन्हें एक सप्ताह का समय दिया है।