जन्मदिन स्पेशल: जाने शबाना आजमी के बारे में कुछ अनकही बातें

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री शबाना आजमी अपना 67वीं जन्मदिन मना रही है। शबाना एक मशहूर अभिनेत्री है। शबाना ने बॉलीवुड में हर तरहा के किरदार निभाएं हैं। उनकी एक खासियत है कि वो हर किरदार में अपने को अच्छे से ढाल लेती हैं। शबाना फिल्मों के साथ साथ सामाजिक कार्यों में भी जुड़ी रहती हैं। शबाना का जन्म 18 सितंबर 1950 को हैदराबाद में हुआ था। शबाना ने मशहूर संगीतकार जावेद अख्तर से शादी की है। शबाना को उनके करियर में पांच राष्ट्रीय पुरस्कार और चार फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है।

shabana azmi birthday
shabana azmi birthday

फिल्मी करियर की शुरुआत

शबाना ने अपने करियर की शुरुआत 1973 में फिल्म ‘अंकुर’ से की थी। अपनी पहली ही फिल्म से शबाना ने राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल किया। इसके बाद लगातार तीन सालों तक उन्हें फिल्म ‘अर्थ’, ‘खंडहर’ और ‘पार’ जैसी फिल्मों के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया। शबाना को लीक से हटकर फिल्में करने के लिए जाना जाता है ‘अर्थ’, ‘निशांत’, ‘अंकुर’, ‘मकड़ी’, ‘मासूम’, ‘अमर अकबर एंथोनी’, ‘परवरिश’ जैसी फिल्मों में काम किया।

सामाजिक कार्यों से लगाव

शबाना आजमी हिंदी सिनेमा की ऐसी मंझी हुई अदाकारा हैं वह आज भी फिल्मों में सक्रिय हैं। एक अभिनेत्री होने के साथ-साथ शबाना आजमी सामाजिक कार्यों में भी समान रूप से जुडी रहतीं हैं। शबाना आजमी हिंदी सिनेमा के मशहूर लेखक,संगीतकार जावेद अख्तर की पत्नी हैं। शबाना ने अपनी शुरुआती पढ़ाई क़्वीन मैरी स्कूल मुंबई से की है। उन्होंने मनोविज्ञान में स्नातक किया है। उन्होंने स्नातक की डिग्री मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज से ली है। शबाना आजमी ने एक्टिंग का कोर्स फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टिटीयूट ऑफ इंडिया पुणे से किया है।

शादी

शबाना आजमी की शादी हिंदी सिनेमा के मशहूर संगीतकार जावेद अख्तर से हुई है। जावेद अख्तर पहले से शादी-शुदा थे, लेकिन शबाना के प्यार में उन्होंने अपनी पहली पत्नी हनी ईरानी को तलाक देकर अभिनेत्री शबाना से निकाह कर लिया। और उनकी यह जोड़ी आज भी लोग के लिए मिसाल है। उस दौर में शबाना ने खुद को ग्लैमरस अभिनेत्रियों की भीड़ से अलग साबित किया। अर्थ, निशांत, अंकुर, स्पर्श, मंडी, मासूम, पेस्टॅन जी में शबाना आजमी ने अपने अभिनय की अमिट छाप दर्शकों पर छोड़ी। अपनी फिल्मों में अपने अभिनय के रंग से शबाना आजमी ने सुधी दर्शकों के साथ-साथ आम दर्शकों के बीच भी अपनी पहुंच बनाए रखी।