12वीं कक्षा के गिरते परिणामों को देखते हुए शिक्षा मंत्री ने दिखाई सख्ती

चंडीगढ़। पिछले कुछ दिनों पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के बारहवीं कक्षा के घोषित परिणामों में आई गिरावट को देखते हुए राज्य की शिक्षा मंत्री अरूणा चौधरी ने गंभीर रुख अपनाया है। जिसको लेकर उन्होंने कम परिणामों वाले स्कूल स्टाफ पर कार्रवाई के आदेश शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों को दिए हैं।

अरुणा चौधरी ने कहा कि कैप्टन सरकार का लक्ष्य राज्य में सरकारी स्कूलों के शिक्षा के स्तर का सुधार कर इनमें पढ़ने वाले आम घरों के बच्चों को भारी फीसों वाले निजी स्कूलों के मुकाबले खड़ा करना है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि 12वीं क्क्षा के परिणामों में गिरावट चिंता का विषय है और इसके लिए उचित कदम उठाने की आवश्यकता है।