साइंस एक्सप्रेस स्पेशल प्रदर्शनी ट्रेन 30 मार्च को पहुंचेगी बिहार

पटना। विज्ञान एवं प्रौद्याेगिकी, रेल तथा पर्यावरण मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से चलाई गई साइंस एक्सप्रेस क्लाइमेट एक्शन स्पेशल प्रदर्शनी ट्रेन यूपी के रास्ते होते हुए बिहार में 30 मार्च को पहुंचेगी। साइंस एक्सप्रेस टीम के प्रोजेक्ट मैनेजर नितिन तिवाने ने हिन्दुस्थान समाचार को दूरभाष पर बताया कि उत्तरप्रदेश के मउ,वाराणसी होते हुए 30 एवं 31 मार्च को गया स्टेशन पर पहुंचेगी इसके बाद 01 एवं 02 अप्रैल को पटना जंक्शन पर, 03 एवं 04 अप्रैल को किउल स्टेशन, 05 अप्रैल को सीतामढ़ी स्टेशन, 06 अप्रैल को समस्तीपुर तथा 7 व 8 को क्यूल सहित कुल 6 स्टेशनों पर पहुंचेगी। फिर यहां से पश्चिम बंगाल के लिए प्रस्थान करेगी।

साइंस एक्सप्रेस एक विशेष रूप से बनायी गयी 16 कोच की वातानुकूलित ट्रेन पर स्थापित एक अभिनव चलनशील प्रदर्शनी है जो अक्टूबर 2007 से समस्त भारत में भर्मण कर रही है। अब तक इसने आठ चरणों में कुल 145000 किलोमीटर की यात्रा पूरी की है। ​बिहार में यह ट्रेन कुल 19 हजार किलोमीटर की यात्रा तय करेगी।

‘साइंस एक्सप्रेस क्लाईमेट एक्शन स्पेशल’ प्रदर्शनी ट्रेन में प्रवेश निःशुल्क है। सुबह 10 बजे से संध्या पांच बजे तक दर्शकों के लिए खुली रहेगी। इस प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य जलवायु परिवर्तन एवं उनसे जुड़े विषयों पर लोगों, खासकर शिक्षकों एवं विद्यार्थियों में व्यापक जागरूकता पैदा कर जलवायु परिवर्तन की समस्या को किस प्रकार से अल्पीकरण एवं अनुकूलन द्वारा रोका जा सकता है।

ट्रेन में कक्षा 3 से 5 के छात्रों के लिए किड्स जोन नामक एक कोच है। इस कोच में छात्रों को दिमागी कसरत कराने वाले एवं पर्यावरण के प्रति जागरूक बनाने वाले खेल खेलने तथा विज्ञान एवं गणित के मॉडल्स बनाने का अवसर प्राप्त होता है। इसके अलावा प्रयोगशाला को एक अन्य कोच में स्थापित किया गया है। जिसमे छात्र विभिन्न प्रयोगों और गतिविधियोंं द्वारा एक रोचक ढंग से जैव विविधता, जलवायु परवर्तन, पर्यावरण, विज्ञान और गणित की अवधारणाओं को समझ सकते हैं। इसके अतिरिक्त पर्यावरण , विज्ञान और गणित के शिक्षकों के क्षमता निर्माण के लिए एक चर्चा सह प्रशिक्षण केंद्र की सुविधा भी ट्रेन में प्रदान की गयी है।