फिल्म उद्योग के जरिए पर्यटन को बढ़ावा देंगे सतपाल महाराज

सूबे में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अब और कई सारे कदम उठाए जा रहे हैं। यहां की खूबसूरत वादियों का नजारा हमें कई बार फिल्मों में भी देखने को मिलता है। ऐसे में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज पर्यटन को बढ़ावा देने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। जिसके चलते पर्यटन तथा फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए सतपाल महाराज द्वारा एक बड़ा कदम उठाया है। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के निर्देशों के अनुसार सूबे में फिल्म शूटिंग को प्रोत्साहन देने के लिए फिल्म शूटिंग क्रू को गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगमों के होटलों में टेरिफ पर 50 प्रतिशत की छूट प्रदान किए जाने का निर्णय लिया गया है। वही राज्य में पर्यटन तथा फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए यह एक बड़ा कदम माना जा रहा है। प्रदेश में फिल्म निर्माण के लिए शूटिंग स्थलों का निर्माण, अवस्थापना विकास, फिल्म निर्माण एवं प्रर्दशन एवं प्रर्दशन के माध्यम से रोजगार, पर्यटन को बढ़ाने एवं क्षेत्रीय फिल्मों के निर्माण को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य उत्तराखंड नीति की घोषणा की थी और इस नीति के तहत सरकार ने परिषद का गठन भी किया है।

satpal maharaj, promote tourism, tourism minister, uk, film shooting
tourism minister satpal maharaj

राजधानी दिल्ली में सूबे में पर्यटन के क्षेत्र में बड़े निवेशकों को उत्तराखंड पर्यटन की तरफ लाने के लिए फिक्की के टूरिजम इनवेस्टर समिट 2017 में शामिल हुए। फिक्की सम्मेलन में पर्यटन सचिव मिनाक्षी सुंदरम का कहना है कि उत्तराखंड में पर्यटन की अपार संभावनाए हैं हम अब इस क्षेत्र में विकास को तकनीकि के साथ नई दिशा की ओर ले जा रहे हैं। देवभूमि में धार्मिक यात्रा के अलावा साहसिक पर्यटन और प्राकृतिक पर्यटन की अपार संभावनाएं है। इसके साथ ही हम क्षेत्रीय पर्यटन यानी हमारे पहाड़ी इलाके हैं वहां के गांवों को और वहां के पारम्परिक व्यंजनों को भी इस क्षेत्र से जोड़कर एक बड़े प्रयास को लेकर फिक्की के इस समिट में आये हैं। इसके साथ ही हम सूबे के विकास में अब पर्यटन को एक बड़ा भागीदार बनाना चाह रहे हैं।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के अलावा केन्द्रीय पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा के साथ फिक्की की चैयरपर्सन ज्योत्सना सूरी भी उपस्थित रहीं। जहां पर इनवेस्टरों के साथ सभी ने अपने विचार साझा किए इसके साथ ही इनवेस्टरों के सवालों का उत्तर भी सीधे मंत्री सतपाल महाराज ने दिया। सतपाल महाराज ने उत्तराखंड में पर्यटन में इनवेस्टरों के लिए बड़ी संभावनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि, कहा जाता है उत्तराखंड में पर्यटन केवल गर्मियों का होता है बाकी अन्य जगहों पर नवम्बर के बाद यात्रा नहीं हो पाती थी इसके अलावा बारिश में पर्यटन धीमा होता है।

शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए अब सूबे के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज बड़े कदम उठा रहे हैं। उत्तराखंड में फिल्मों को बढ़ावा देने के लिए शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल का आयोजन भी किया गया था। वही राज्य सरकार ने उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद का गठन भी किया है। सीएम की अध्यक्षता में गठित परिषद में बॉलीवुड के प्रसिद्ध फिल्म निर्देशक तिग्मांशु धुलिया और अभिनेता हेमंत पांडेय को इसका उपाध्यक्ष बनाए गए थे।अगर बात की जाए फिल्मों की तो उत्तराखंड की वादियों में कई फिल्मों की शूटिंग की जा चुकी है। अजय देवगन स्टारर शिवाय की शूटिंग की गई है। यहां की वादियों के कारण इस फिल्म की शूटिंग के लिए उत्तराखंड का निर्णय किया गया। दूसरी तरफ उत्तराखंड को प्रतिभावना कलाकारों की जन्मभूमि के नाम से भी जाना जाता है। उत्तराखंड से हर बार एक नया कलाकार बॉलीवुड में कदम रख रहा है। बॉलीवुड में कदम रखने के साथ साथ इसमें उत्तराखंड की छाप भी छोड़ी जा रही है।