संजय निरुपम ने अमिताभ को दी सलाह, ना बने जीएसटी के प्रचारक

नई दिल्ली। जीएसटी के प्रमोशन के लिए बॉलिवुड के शंहशाह अमिताभ बच्चन को ब्रैंड अबेंसडर बनाया गया हैं। सेंट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज ऐंड कस्टम्स के विज्ञापन में अमिताभ को जीएसटी का प्रचार करते हुए दिखाया जाएगा लेकिन कांग्रेस नेता संजय निरुपम को पंसद नहीं आया।

जीएसटी को लेकर कहा जा रहा हैं कि देश में जिस तरह से आजादी की घोषणा हुई थी उसी तर्ज पर आगामी एक जुलाई को पूरे देश में एक साथ जीएसटी लागू होने की घोषणा की जाएगी जीएसटी के प्रचार और उसके ब्रांड एंबेसडर को लेकर कहा जा रहा हैं।

कांग्रेंस नेता संजय निरुपम ने अमिताभ बच्चन को सलाह दे डाली कि उन्हें खुद को इस अभियान से अलग कर लेना चाहिए हांलाकि अमिताभ बच्चन ने इस मामले में दो टूक कहा है कि उन्हें ऐसा करने के लिए कहा गया और उन्होंने किया।

टैक्स सुधार के रुप में जीएसटी को 1 जुलाई से लागू किया जाएगा अमिताभ बच्चन उनके साथ 40 सेकेंड की एक विज्ञापन फिल्म पहले ही शूट कर ली गयी हैं वित्त मंत्रालय ने इस वीडियों को साझा करते हुए ट्वीट में लिखा हैं कि जीएसटी एक पहल एकीकृत बाजार बनाने के लिए इससे पहले बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू जीएसटी की ब्रांड अंबेसडर थी। बता दें कि ये वीडियो अरुण जेटली और गृह मंत्री राजनाथ सिंह नेभी अपने ऑफिशियल ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरुपम ने ट्विटर पर निशाना साधते हुआ लिखा कि मैं अमिताभ बच्चन को सलाह दूंगा कि जीएसटी के ऐसे स्वरुप का ब्रैंड अबैंसडेर ना बनें व्यापारियों का संभावित विरोध उनके खिलाफ जा सकता हैं।

आपको बता दें कि दिल्ली में जीएसटी परिषद की अगली बैठक 30 जून को होगी और इसी दिन आधी रात को दिल्ली में एक प्रोग्राम के माध्यम से इसे आधिकारिक तौर पर लाँच किया जाएगा। वित्तमंत्री ने जीएसटी परिषद् की 17वीं बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि परिषद् की अगली बैठक 30 जून को को विज्ञान भवन में होगी।