सपा महासंग्राम है चुनावी ड्रामाः बीजेपी

 

लखनऊ। विधानसभा चुनाव 2017 से पहले समाजवादी पार्टी (सपा) में मचे घमासान को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पिता पुत्र के बीच का स्क्रिप्टेड ड्रामा बताया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता चन्द्रमोहन ने शनिवार को कहा कि यह प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था और गुण्डाराज से जनता का ध्यान हटाने की साजिश है और सब कुछ पहले से तय योजना के मुताबिक किया जा रहा है।

भाजपा प्रवक्ता का कहना है कि सपा में जो चल रहा है मुद्दों की लड़ाई नहीं है। इसमें एक पिता ने अपने बेटे के लिए सारा नाटक रचा है। उन्होंने कहा कि यह वर्चस्व की लड़ाई है, जो विधानसभा चुनाव से पहले योजनाबद्ध तरीके से रची गई है। चन्द्रमोहन ने कहा कि पांच साल तक सरकार ने विकास का कोई काम नहीं किया। भूमाफिया पूरी तरह से हावी रहे, अपराधियों का बोलबाला रहा और अब जब चुनाव सिर पर हैं, तो विकास के मुद्दे से लोग का ध्यान भटकाया जा रहा है।

सही गलत की नहीं लड़ाई

सपा में घमासान नैतिक मूल्यों या सही और गलत की लड़ाई नहीं है। उन्होंने सूबे की मौजूदा परिस्थितियों को लेकर भाजपा की चुनावी रणनीति में किसी भी तरह के परिवर्तन से इनकार किया। प्रवक्ता ने कहा कि जनता सब कुछ जानती है। भाजपा विकास और जनहित के मुद्दे को लेकर ही जनता के बीच है।