राजस्थान की पहली मुस्लिम छात्रा सकीना बेगम का निधन

बीकानेर। राजस्थान की पहली मुस्लिम छात्रा रही और बीकानेर में मुस्लिम समाज की शिक्षित पहली महिला सकीना बेगम अब हमारे बीच में नहीं रही। वे 94 साल की थीं और सेवानिवृत्त चिकित्सक डॉ मोहम्मद साबिर और मोहम्मद शाकिर की माता थी। जानकारी के अनुसार शुरू से ही वे मेहनती और झुझारू थी। सबसे बड़ी बात उन्होंने पूरी स्कूली पढाई बीकानेर संभाग मुख्यालय पर लेडी एल्गिन स्कूल में की और उसी स्कूल में ही अध्यापिका लगी और सेवानिवृति तक इसी स्कूल में लैक्चरर रहीं।

 Sakina Begum
Sakina Begum

बता दें कि भारत पाकिस्तान बंटवारे के बाद पाकिस्तान में रह गये अपने पति को लाने के लिए भारत के प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू से मिलकर गुहार लगाई और पति को हिन्दुस्तान लेकर आई। बीकानेर में नारी शिक्षा एवं नारी सशक्तिकरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिए बीकानेर के सभी धर्मों की संस्थाओं की ओर से कई बार उनका सम्मान हो चुका है। प्रौढ शिक्षा अभियान के प्रारम्भ से ही आज तक जुड़ी रहीं। वे मोहल्ला चूनगरान में रहती थी। उनके जनाजे में मंगलवार को शहर की विभिन्न जानी-मानी शख्सियतों ने भाग लिया। जैसलमेर रोड़ के समीप उनको सुपुर्दे खाक किया गया।