सदर भाजपा सांसद का बुलेट राजा रुप : हरदोई

उत्तर प्रदेश। हरदोई शहर के मुख्य चौराहों पर उस वक्त हड़कंप मच गया जब बुलेट पर सवार एक लहीम सहीम व्यक्ति बिना किसी पुलिस कर्मी के साथ चौराहों पर चल रहे बस के अड्डों से वसूली करने वालो की क्लास लेता दिखा, टी शर्ट जींस , पैरों में स्पोर्ट शूज और गले भगवा गमछा अंदाज किसी सिंघम से काम नहीं था लिहाजा लोग इन्हे क्राइम ब्रांच या सीबीआई जैसे विभागों का अफसर समझ रहे थे , लेकिन जब लोगों ने ढंग से पहचानने की कोशिश की तो वो निकले उनके सदर बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा जो शिकायतों का निस्तारण करने सारे वीआईपी कल्चर छोड़ कर बुलेट से निकले थे।

तस्वीरों में नजर आ रहे बुलेट पर सवार ये बुलेट राजा और कोई नहीं बल्कि हरदोई की 31वी लोकसभा से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा है , जिन्होंने शहर के तमाम ठिकानों पर छापेमारी की और अवैध वसूली करने वाले 2 लोगों को कोतवाली पुलिस के हवाले किया।

दरअसल पिछले कई दिनों से सदर सांसद के पास प्राइवेट बस अड्डों पर होने वाली अवैध वसूली की खबर आ रही थी उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारीयों से करवाई करने के लिए कहा था लेकिन पुलिस अपने ढ़ीले रवैये के चलते कार्रवाई नहीं कर सकी और शिकायतों का आना भी बंद न हुआ। सदर सांसद ने आम नागरिक का रूप धारण कर बुलेट से ही शहर का हाल लेने निकल पड़े और जब सिनेमा चौराहा पर और गाँधी भवन के पास चलने वाले बस और टैक्सी स्टैंड पर छापेमारी की तो पुरे ही जिले में ये खबर आग की तरह फैल गयी और अवैध स्टैंड चलाने वाले ताना बाना छोड़ कर भाग गए , हालंकि दो लोग सांसद के चंगुल में फंस गए जिनको कोतवाली शहर की पुलिस को बुला कर उनके सुपुर्द कर दिया गया है।