रूस के राष्ट्रपति पुतिन से है अमेरिका को सबसे ज्यादा खतरा: हिलेरी

वॉशिंगटन। अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री और हाल ही में हुए राष्ट्रपति चुनावों  में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन को अमेरिका के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है। हिलेरी ने एक साक्षतकार के दौरान चेतावनी देते हुए कहा कि पुतिन अमेरिका के लिए अभी-भी एक बड़ा खतरा बने हुए हैं, इसलिए उन पर नजर रखी जानी चाहिए।  हिलेरी ने कहा कि मैं ये दावा एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से कर रही हूं। उन्होने बताया कि साल 2016  में हुए राष्ट्रपति चुनावों के समय ट्रंप को बढ़ावा देने के पीछे पुतिन का ही हाथ है।

 

उन्होंने कहा कि पुतिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जरिए कुछ चाहते थे, उनमें से रूस कुछ हासिल कर चुका है, लेकिन वो अब सबकुछ हासिल नहीं कर सकता। पूर्व राष्ट्रपति उम्मीदवार ने आरोप लगाया कि पुतिन को किसी ने उनके खिलाफ साजिस और षडयंत्र रचने के लिए प्रेरित किया था, लेकिन रूस अमेरिका के साथ एक व्यापाक और वैचारिक लड़ाई का आयोजन भी कर रहे हैं।

 

हिलेरी ने पुतिन पर अमेरिका को बाटंने का आरोप लगाया और व्यक्तिगत अभाव की बजाए अमेरिका पर उसके प्रभाव का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मुझे लगाता है कि पुतिन ने हमारे देश के खिलाफ एक अभियान छेड़ा हुआ है और वो अमेरिका के लोकतंत्र को प्रभावित करने से संबंधित हो सकता है। उन्होंने कहा कि रूस एक ऐसा अमेरिका चाहता है जोकि अंदर से विभाजित हो।

आपको बता दें कि साल 2016 के नवंबर में अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव के समय रिपब्लिक उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को जीत मिली थी। वहीं हिलेरी क्लिंटन को इस चुनाव में ट्रंप से ज्यादा समर्थन हासिल होने के बावजूद भी हार का सामना करना पड़ा था। इस दौरान हिलेरी के निजी मेल से एक ईमेल भेजने की बात का भी खुलासा हुआ था। इसके बाद रूस पर हैकिंग के आरोप लगाए गए थे, हालांकि रूस कई बार अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित करने के आरोपो को खारिज करता आया हैं।