रूसी वकील से की जूनियर ट्रंप ने मुलाकात

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सबसे बड़े बेटे ने इस बात की की पुष्टि की है कि उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के दौरान प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार के खिलाफ जानकारी के लिए रूस से जुड़ी एक वकील से मुलाकात की थी। यह जानकारी रविवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा है कि उनके पिता को रिपब्लिकन उम्मीदवारी मिल जाने के कुछ ही समय बाद उन्होंने इस उम्मीद में मुलाकात की थी कि इससे उन्हें चुनाव अभियान में डेमोक्रेट उम्मीदवार हिलेरी क्निंटन के बारे में जानकारी मिल सकेगी। लेकिन उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली।

बता दें कि न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी एक खबर में ह्वाइट हाउस के सलाहकारों के हवाले से बताया था कि ट्रंप जूनियर हिलेरी क्लिंटन को नुकसान पहुंचाने वाली जानकारी देने का वादा किए जाने पर इस बैठक के लिए राजी हो गए थे। पिछले साल जून महीने में ट्रंप टावर में वकील नतालिया वेसेलनित्स्काया के साथ हुई इस बैठक में ट्रंप जूनियर, उनके जीजा जेयर्ड कुशनेर और तत्कालीन प्रचार अभियान प्रमुख पॉल मैनफोर्ट मौजूद थे। इस बैठक की जानकारी सरकारी अधिकारियों ने ही सार्वजनिक की। गत शनिवार को ट्रंप जूनियर और कुशनेर ने टाइम्स की रिपोर्ट के बाद इस बैठक की पुष्टि की। हालांकि रविवार को दिए अपने बयान में ट्रंप जूनियर ने यह पुष्टि नहीं की थी कि उन्हें हिलेरी को नुकसान पहुंचाने वाली जानकारी देने का वादा किया गया था।

लेकिन उन्होंने कहा कि उन्हें साल 2013 की मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता से जुड़ी रहीं एक जानकार से मिलने के लिए कहा गया था। उनसे कहा गया था कि यह जानकार प्रचार अभियान के लिए अहम जानकारी उपलब्ध करवा सकती हैं। ट्रंप जूनियर ने कहा कि बैठक के दौरान अटॉर्नी ने दावा किया कि रूस से जुड़े लोग डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी का वित्त पोषण कर रहे थे और हिलेरी को समर्थन दे रहे थे। लेकिन इसके बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी गई और ना ही उसकी पेशकश ही की गई। जल्दी ही स्पष्ट हो गया कि उनके पास कोई अर्थपूर्ण जानकारी नहीं थी। उल्लेखनीय है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की जांच संघीय जांच ब्यूरो और अमेरिकी कांगेस की समिति भी कर रही है। लेकिन अभी तक पुख्ता समबूत नहीं मिला है कि ट्रंप के चुनाव का अभियान का संबंध रूस के साथ था।