रियो की सुरक्षा के लिए अमेरिका के 1,000 से अधिक जासूस

वाशिंगटन। अमेरिका ने रियो ओलम्पिक की सुरक्षा के लिए 1,000 से अधिक जासूसों को ब्राजील भेजा है। ‘एनबीसी न्यूज’ की ओर से अमेरिकी के खुफिया प्रयासों पर की गई समीक्षा की अत्यधिक वगीर्कृत रिपोर्ट के अनुसार, सैकड़ों विश्लेषक, कानून प्रवर्तन और विशेष अभियान कर्मियों के साथ एक दर्जन से अधिक नौसेना और मरीन कोर के कमांडो के वर्तमान में ब्राजील की संघीय पुलिस और देश की नौसेना के साथ मिलकर रियो डी जेनेरियो में काम कर रही है।

us army

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस अभियान में अमेरिका की 17 खुफिया एजेंसी शामिल हैं और उन्होंने कई प्रकार के काम सौपें गए हैं। ‘एनबीसी न्यूज’ को दिए अपने बयान में अमेरिकी खुफिया एजेंसी के निदेशक जेम्स क्लापेर के प्रवक्ता रिचर्ड कोल्को ने कहा, “अमेरिकी खुफिया एजेंसी काफी करीबी तौर पर ब्राजील के खुफिया अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रही है, जिससे देश रियो ओलम्पिक खेलों की सुरक्षा में समर्थन दे सकें।”

ब्राजील के समर्थन में रियो ओलम्पिक की सुरक्षा के लिए 51 देश मिलकर मदद दे रहे हैं। रियो ओलम्पिक की सुरक्षा चिंता का कारण है, क्योंकि ओलम्पिक खेलों की शुरुआत से कुछ ही दिन पहले ब्राजील की पुलिस ने करीब दर्जन भर संदिग्धों को गिरफ्तार किया था। इन सभी ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के खिलाफ अपनी जिम्मेदारी जाहिर की थी।