खुदरा महंगाई घटी, लेकिन औद्योगिक उत्पादन भी हुआ कम

नई दिल्ली। भारत की खुदरा महंगाई दर में गिरावट आई है और यह अगस्त में 5.05 फीसदी रही, लेकिन औद्योगिक उत्पादन में नकारात्मक बढ़त देखी गई और यह जुलाई में (-)2.4 फीसदी रही। आधिकारिक आंकड़ों से सोमवार को यह जानकारी मिली। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) से जारी आंकड़ों के मुताबिक खाद्य मुद्रास्फीति की दर अगस्त में घटकर 5.91 फीसदी हो गई, जबकि जुलाई में यह 8.35 फीसदी थी।

Inflation

जहां तक औद्योगिक उत्पादन का सवाल है, इसमें कमी का मुख्य कारण विनिर्माण उपसूचकांक में आई (-)3.4 फीसदी की कमी है, जिसका औद्योगिक उत्पादन सूचकांक में सबसे ज्यादा वजन है। इसके अलावा खनन और बिजली सूचकांक में भी नरमी रही।

मई में औद्योगिक उत्पादन में 1.1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी, जबकि अप्रैल में यह (-)1.4 फीसदी पर था। पिछले साल जुलाई में इसमें 4.3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी। वहीं, इस वित्त के पहले चार महीनों में इसकी वृद्धि दर लगातार (-)0.2 फीसदी नकारात्मक रही थी। सरकार ने अगले पांच सालों के लिए खुदरा महंगाई दर को 4 फीसदी (2 फीसदी कम-ऊपर) पर रखने का लक्ष्य रखा है।