यूएनसी पर लगी आर्थिक नाकेबंदी हटवाना सरकार की प्राथमिकताः एन. बीरेन सिंह

इंफाल। मणिपुर में पहली बार भाजपा की सरकार बनी है, बुधवार को सीएम एन. बीरेन सिंह ने राज्यपाल नजमा हेपतुल्लाह के नेतृत्व में पद और गोपनियता की शपथ ली। कार्यभार संभालते ही सीएम ने कहा है कि उनकी पहली प्राथमिकता युनाइटेड नागा काउंसिलपर लगाई गई अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकेबंदी हटवाना है।

युनाइटेड नागा काउंसिल ने कांग्रेस सरकार के नागा बहुल इलाके में से काटकर दो नए जिले सदार हिल्स और जिरिबम बनाए जाने के विरोध में नाकेबंदी को लागू किया है। राज्य विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय नेताओं ने वादा किया था कि मणिपुर में सरकार बनने के 48 घंटे के भीतर नाकाबंदी हटवा दी जाएगी। यह काम अब मणिपुर में भाजपा की अगुवाई वाली सरकार में नागा पीपुल्स फ्रंट के साझीदार होने से आसान हो गया है।

गौरतलब है कि पहली बार मणिपुर में भाजपा सत्ता में आई है। 60 सीटों वाली मणिपुर विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत प्राप्त नहीं हुआ था, प्रदेश में सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी को 31 विधायकों की आवश्यकता थी लेकिन चुनाव में कांग्रेस का 28, बीजेपी को 21, टीएमसी को 1 और अन्य के खाते में 10 विधायक आए थे। चुनाव परिणाम के बाद भाजपा ने जोड़-तोड़ कर 32 विधायकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया है जिसके बाद प्रदेश में पहली बार भाजपा की सरकार बनी है।