चुनाव से पहले बागी नेताओं को कैप्ट अमरेन्द्र सिंह ने दी चेतावनी

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने समय पर अपना नामांकन वापिस लेने में असफल रहने वाले विद्रोही उम्मीदवारों को रविवार को सख्त चेतावनी देते हुए, उन्हें मंगलवार शाम 5 बजे तक मुकाबले से पीछे हटने या फिर पार्टी से पूरी तरह से निकाले का सामना करने की चेतावनी दी है। कैप्टन अमरेन्द्र ने जन विरोधी शिअद व आप को पराजय देने हेतु, विद्रोहियों से कांग्रेस द्वारा नामांकित उम्मीदवारों के पक्ष में पीछे हटने व एकजुट होने के लिए कहा है।

उन्होंने कहा कि पंजाब व इसके लोगों के हित सर्वोच्च हैं और व्यक्तिगत हितों के लिए इन पर समझौता करने की इजाजत नहीं दी जा सकती। उन्होंने विद्रोहियों से पार्टी से निकाले जाने से बचने हेतु मुकाबले से पीछे हटने के लिए 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया है और स्पष्ट किया है कि ए.आई.सी.सी निर्देशों को न माने जाने के चलते पार्टी से निकाले जाने का सामना करने वाले बागियों को वापिस लेने के लिए तैयार नहीं है।

इस क्रम में, राज्य में कांगे्रस की सरकार आने पर उचित जगह देने के वायदे के बावजूद भी पार्टी नेतृत्व की नामांकन वापस लेने संबंधी अपीलों को सुनने से इंकार करने वाले विद्रोहियों पर बरसते हुए, कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा है कि यह पूरी तरह से पार्टी के अनुशासनात्मक सिद्धान्तों का उल्लंघन है और इनके लिए किसी भी कीमत पर इजाजत नहीं दी जा सकती। कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा कि वह विद्रोहियों को आखिरी मौका देते हुए, मंगलवार शाम तक अपनी रिटायरमेंट का ऐलान करने का वक्त देते हैं।