रेंमड लिमिटेड कंपनी के मालिक एक-एक पैसे के लिए हैं मोहताज

नई दिल्ली। विजयपत सिंघानिया देश के सबसे बड़े रईसों में शुमार हैं साथ ही वो रेंमड लिमिटेड के मालिक भी हैं। लेकिन आज यही रईस एक-एक पैसे के लिए मोहताज है। विजयपत का कहना है कि इतना अमीर होने के बाद भी मेरे बेटे ने मुझे एक-एक पैसे के लिए तरसाया हुआ है। विजयपत के वकील ने कोर्ट को बताया कि 78 वर्षीय सिंघानिया ने अपनी सारी प्रॉपर्टी अपने बेटे के नाम कर दी है। प्रोपर्टी नाम होने के बाद विजयपत के बेटे ने पिता पर ध्यान देना ही बंद कर दिया। इन सब में खास बात ये है कि अपने बेटे को सारा कारोबार सौंपने के बाद विजयपत अब खुद किराये के मकान में रह रहे हैं।

 raymond ltd, ex chairman, vijaypat singhania, allege, son, gautam
raymond ltd

बता दें कि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में विजयपत ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। जिसमें उन्होंने अपने ड्यूप्लेक्स घर का पजेशन मांगा है। इसके बाद विजयपत के वकील ने कोर्ट को बताया कि इतने रईस होने के बाद भी वो कैसे पैसों के लिए तरस रहे हैं। वकील के मुताबिक कोर्ट को दी गई जानकारी के लिहाज से विजयपत ने अपनी कंपनी के सारे शेयर अपने बेटे के नाम कर दिए हैं। जिनकी कीमत लगभग 1000 करोड़ है। शेयर मिलने के बाद बेटे ने बाप को बेसहारा छोड़ दिया। यहां तक की सिंघानियां की गाड़ी और ड्राइवर भी उनके बेटे ने छीन लिए हैं। वकील ने आगे कहा कि विजयपत ने अपनी मेहनत से कंपनी को ब्रांड बनाया लेकिन अब उनका बेटा कंपनी के साथ ऐसा बर्ताव कर रहा है जैसे वो उसकी अपनी बनाई हुई प्रॉपर्टी हो।