जब अस्पताल में मरीज के पैर खा गए चुहे, डॉक्टर बोले 10 में और क्या दें

मुंबई। बीएमसी द्वारा संचालित कांदिवली का शताब्दी हॉस्पिटल में एक सप्ताह में चूहों ने दो बुजुर्ग महिला मरीजों की आंख और पैर कुतर दिए। मामला सामने आने के बाद मरीजों के परिजनों ने हॉस्पिटल में जमकर हंगामा किया और स्थानीय विधायक से इसकी शिकायत की। एक मरीज के परिजन का आरोप है कि चूहे काटने की शिकायत करने पर अस्पताल ने शर्मनाक बयान देते हुए कहा कि 10 रुपये में और क्या-क्या सुविधा दी जाए। विवाद बढ़ने के बाद अब हॉस्पिटल ने मामले में जांच का आदेश दे दिया है।

bmc hospital
bmc hospital

बता दें कि ताजा मामले में मुंबई की रहने वाली 65 साल की शिलाबेन शाह के पैर की हड्डियां टूट गयीं थी, जिसके बाद उन्हें बी बीते रविवार शाम को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रात में जब वे सो रहीं थीं इसी दौरान उन्हें अपने पैर में तेज दर्द हुआ। जब उन्होंने देखा तो कुछ चूहे उनके पैर को बुरी तरह से काट रहे थे। इसके बाद शिलाबेन ने चिल्लाते हुए नर्स को बुलाया और चूहों को भगाया। ऐसी ही घटना एक सप्ताह पहले प्रमिला नेरुरकर नाम की बुजुर्ग महिला के साथ हुई थी। लकवे की शिकायत के बाद 3 अक्टूबर को प्रमिला (61) को हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया था।