रेप नाजायज लेकिन महिला पर अत्याचारों के लिए वैलेंटाइन डे जिम्मेदार

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS के नेता इंद्रेश कुमार एक बार फिर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं। इंद्रेश कुमार ने कहा कि रेप, नाजायज बच्चों और महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा के लिए पश्चिमी संस्कृति का वैलेंटाइन डे जिम्मेदार है।

वह यहां स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन के मौके पर अपनी बात रख रहे थे।
हालिया मामले में इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत में प्रेम में पवित्रता है, लेकिन पश्चिमी सभ्यता ने ऐसे उत्सवों के जरिये इसका कॉमर्शिएलाइजेशन कर दिया है।

उन्होंने कहा कि भारत में प्रेम पवित्र है और यहां यहां प्रेम राधा-कृष्ण, लैला-मजनू और हीर-रांझा की कहानियों के जरिये बयां किया जाता है।

मगर, पश्चिमी संस्कृति में प्रेम का वाणिज्यीकरण है, जिसके कारण वैलेंटाइन डे की शुरुआत हुई। यह अब बलात्कार, नाजायज बच्चों और महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा के रूप में सामने आ रहा है। आज भारत ही नहीं, पूरा विश्व ऐसी समस्याओं का सामना कर रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी उन्होंने कहा था कि गोमांस खाने की वकालत करने वाले शैतान की पार्टी से जुड़े हैं। गाय, मानव जीवन के खाद्यान्न का मौलिक अधिकार नहीं, राक्षसी अधिकार है। उन्होंने कहा था कि वेटिकन सिटी और मक्का-मदीना में भी आज तक गाय की कुर्बानी नहीं हुई है।