रेप पीड़िता ने एसएसपी ऑफिस में किया आत्मदाह करने का प्रयास

मेरठ में रेप पीड़िता के द्वारा इंसाफ ना मिलने के बाद खुद को एसएसपी ऑफिस में आत्महत्या का प्रयास करने का मामला सामने आया है। दरअसल रेप का इंसाफ मांगने पीड़िता दारोगा के पास गई तो उसका मामला तक दर्ज नहीं हो सका। पीड़िता ने कहा है कि उसके मामा और मामा के लड़के ने मिलकर उसके साथ रेप किया है। जिसके बाद इंसाफ ना मिलने से नाराज पीड़िता सोमवार को परिवार सहित केरोसिन की बोतल लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंच गई और परिवार सहित तेल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया। किसी तरह पास में खड़े हुए पुलिस कर्मी ने केरोसिन की बोतल छीनकर उनकी जान बचाई।

rape victim, tried to commit suicide, ssp office, crime, police
rape victim tried to commit suicide

दरअसल कुछ माहीने पूर्व एक किशोरी का अपहरण 2 युवकों ने कर लिया और उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। किसी तरह पीड़िता उनके चंगुल से छूटकर टीपी नगर थाने पहुंची और वहां पर तैनात दारोगा को आप बीती सुनाई। दारोगा ने किशोरी को भरोसे में लेकर अपने साथ बयान दर्ज कराने के बहाने होटल के कमरे में ले गया और उसके साथ जोर जबरदस्ती कर दुष्कर्म करने का प्रयास किया। जब पीड़िता ने विरोध किया तो दारोगा ने उसको जमकर पीटा और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी।

मामला जब मीडिया में हाई लाइट हुआ तो पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी लेकिन दारोगा फरार चल रहा था। पीड़िता की माने तो पीड़िता को मामा को सपुर्दगी में दे दिया गया था। पुलिस ने मामा के खिलाफ भी मुकदमा लिख लिया था वही सोमवार को एसपी क्राइम से बात हुई तो उनका कहना है कि इस मामले में दारोगा सहित 2 की गिरफ्तारी हो चुकी है और वो जेल भी जा चुके हैं।