स्वर्ण विजेता पैरा-एथलीट झाझरिया को 75 लाख रुपये देगा राजस्थान

जयपुर। राजस्थान सरकार ने बुधवार को रियो पैरालम्पिक-2016 में भाला फेंक स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीतने वाले भारतीय पैरा-एथलीट देवेंद्र झाझरिया को 75 लाख रुपये की पुरस्कार राशि देने की घोषणा की। राजस्थान के चूरू जिले के रहने वाले झाझरिया ने रियो पैरालम्पिक में मंगलवार को पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा (एफ46) में विश्व कीर्तिमान रचते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया। इससे पहले भी विश्व कीर्तिमान झाझरिया के ही नाम था, जो उन्होंने एथेंस ओलम्पिक में बनाया था। एथेंस ओलम्पिक में भी झाझरिया के नाम स्वर्ण पदक रहा था। झाझरिया ने मंगलवार को रियो डी जनेरियो में अपने पूर्व 62.15 मीटर के रिकॉर्ड में सुधार करते हुए तीसरे प्रयास में 63.97 मीटर की सर्वश्रेष्ठ दूरी हासिल की और नया विश्व कीर्तिमान रचा।

devendra

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने झाझरिया को स्वर्ण पदक जीतने की बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया, “इतिहास रचने पर आपको बधाई–आप (झाझरिया) पैरालम्पिक में दो स्वर्ण जीतने वाले भारत के पहले पैरा-एथलीट बन गए। राजस्थान को आपकी उपलब्धियों पर गर्व है।” वसुंधरा ने अगले ट्वीट में लिखा, “नया विश्व कीर्तिमान रचा गया, असाधारण प्रदर्शन, अदम्य जिजीविषा! देवेंद्र आपने भारत को अपनी प्रतिभा की चमक से रोशन कर दिया है।”वहीं राज्य सरकार के सूत्रों ने बताया कि 75 लाख रुपये की पुरस्कार राशि के अलावा देवेंद्र को राज्य की राजधानी जयपुर में आवासीय भूमि और श्री गंगानगर जिले में कृषि भूमि भी प्रदान की जा सकती है।