बद्रीनाथ की शरण में रेल मंत्री सुरेश प्रभु और केंद्रीय मंत्री राधामोहन

बद्रीनाथ। केंद्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु और केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने शनिवार को भगवान बदरी विशाल के दर्शन किये। केंद्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु के साथ उनकी पत्नी भी थीं। राज्य के कृषि मंत्री व विधायक सुबोध उनियाल व बदरीनाथ के विधायक महेंद्र भट्ट व थराली के विधायक मगन लाल भी इस अवसर पर मौजूद थे।

रेल मंत्री व केंद्रीय कृषि मंत्री शनिवार दोपहर हेलीकॉप्टर से बदरीनाथ पहुंचे। उनके तुरंत बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत व कृषि मंत्री सुबोध उनियाल भी दूसरे हेलीकॉप्टर से बदरीनाथ पहुंचे। बदरीनाथ में 25 मिनट पूजा अर्चना के बाद जब वे मंदिर परिक्रमा स्थल पर पहुंचे तो लक्ष्मी मंदिर में भगवती लक्ष्मी की भी अर्चना की।

मंदिर परिसर में ही बीकेटीसी के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह ने रेल मंत्री, कृषि मंत्री व मुख्यमंत्री समेत सभी अतिथियों को शॉल ओढ़ा कर आतिथ्य सत्कार किया। रेल मंत्री ने मंदिर से संबंधित जानकारी भी प्राप्त की। मुख्यमंत्री को लेकर स्थानीय लोगों में काफी उत्साह दिखा। भाजपा कार्यकर्ताओं में सीएम को माला पहनाने की होड़ लगी रही। कृषि मंत्री और रेल मंत्री के बदरीनाथ पहुंचने पर यात्रियों को दर्शन के लिए इंतजार करना पड़ा। भगवान का भोग लगाने के बाद मंत्रीगण दर्शन करने पहुंचे।

इस अवसर पर भाजपा के जिलाध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, जोशीमठ की नपा अध्यक्ष रोहणी रावत, रामकृष्ण रावत समेत कई अन्य भाजपा नेता भी मौजूद थे।