यूपी की तर्ज पर उत्तराखण्ड में अवैध बूचड़खानों पर हुई कार्रवाई

देहरादून। योगी सरकार द्वारा यूपी में अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई करने के बाद उत्तराखण्ड सरकार भी एक्शन में आ गई है। शनिवार को राजधानी देहरादून में प्रशानिक अधिकारियों ने अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई की। अधिकारियों को कई स्थानों पर छापेमारी कर मृत पशु बरामद किए गए।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पदभार संभालने के बाद अवैध खनन और अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई की घोषणा की थी। इसी के तहत अब प्रशासन भी हरकत में आ गया। कॉलोनियों में चल रहे बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई की गई। सिटी मजिस्ट्रेट सीएस मर्तोलिया और अपर जिलाधिकारी हरबीर सिंह के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा विभाग और पुलिस की संयुक्त टीम ने तड़के चार बजे शहर के विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की।

छापेमारी के लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया गया। इस दौरान इनामुल्लाह बिल्डिंग, कारगी, मुस्लिम कॉलोनी, चुक्खूवाला में छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान भैंसे कटती हुई मिली। इसके बाद मृत पशुओं को कब्जे में लेकर नष्ट कर दिया गया। साथ ही बूचड़खानों के संचालकों का चालान किया गया है। अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही यूपी तर्ज पर प्रदेश के तमाम बूचड़खानों पर ताले लग जाएंगे।