यूपी की तस्वीर बदलने के लिए की अखिलेश से दोस्ती: राहुल

गोरखपुर। छठे चरण के मतदाताओं को लुभाने के लिए सोमवार को राहुल और अखिलेश की रैली गोरखपुर पहुंची। गोरखपुर में सभा को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, ‘अखिलेश से मेरी दोस्ती के पहले मोदी खुश रहते थे लेकिन अब डर रहे है। यही वजह है कि वे माइक संभालते ही मेरी बुराई शुरू कर देते है।’

दोस्ती से बदलेगी तस्वीर

सभा को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि अखिलेश और उनकी दोस्ती यूपी की तस्वीर बदलने और प्रदेश में विकास लाने के लिए है। आगे बोलते हुए राहुल ने कहा कि अखिलेश ने प्रदेश में विकास किया है लेकिन इस बार वो उनके साथ विकास को एक अलग रफ्तार देना चाहते हैं।

मोदी ने किया छल

प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि पीएम ने देश युवाओं का समय जाया किया है। 56 इंच के सीना वाले मोदी ने दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था लेकिन एक को भी रोजगार नहीं मिला। आगे बोलते हुए राहुल ने कहा कि मोदी ऐसी पिक्चर बनाते है, जिसमें डायरेक्टर से लेकर छोटे कलाकार तक सबकुछ वही होते हैं।

गब्बर की तरह हंसी

उन्होंने कहा कि शोले के गब्बर जैसे बोलते हैं मोदी। हर किसी काम को करने का वादा कर हंसकर छलते हैं। वादा पूरा नहीं करते है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के 50 अमीरों का कर्ज माफ कर दिया। एक लाख 40 करोड़ रुपए माफ किया। किसानों का कर्ज माफ करने में उनकी कोई रूचि नहीं है। उन्होंने कहा कि हर शहर में हम काम दिलाने का प्रयास करेंगे। एक-एक जिले के युवाओ को उनके जिले में ही काम दिलाएंगे।

मोदी ने गंगा को ही साफ कर दिया

उन्होंने कहा कि मोदी जब नीद से जागते है तो कहते हैं कि गंगा ने मुझे बुलाया है। यहाँ आकर उसी गंगा मां से मोदी रूपी बेटा डील करता है। कहता है कि पहले प्रधानमंत्री बनाओ, मैं गंगा को ही साफ कर दूंगा। हालात यह है कि मोदी ने माँ के लिए कोई काम नहीं किया। रिश्ता जताने से कम नही चलता है, निभाने से चलता है।

समाज को बांटने की राजनीति

मोदी की रणनीति पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा, ‘मोदी यूपी को बांटने की राजनीति कर रहे है। लेकिन यूपी बंटाने वाला नहीं है। यहाँ बहुत पहले से ही कहा जा रहा है कि न हिन्दू बनेगा, न मुसलमान बनेगा, इंसान की औलाद है, इंसान बनेगा।’