प्रदेश भर में शराब को लेकर जारी है महिलाओं का विरोध

बलिया। हाईवे से 500 शराब की दुकानों को हटाने के फरमान पर शराब के ठेकेदार परेशान हैं। प्रदेश भर में शराब का विरोध तो है लेकिन महिलाओं की भूमिका विरोध में खूब दिख रहा है। जी हां ऐसा ही नजारा बलिया के रसड़ा कोतवाली थाना क्षेत्र में देखने को मिला।

बता दें कि बलिया जनपद के का यह रसड़ा कस्बा के झुट्ली गड़ही के समीप देशी शराब की दुकान पर महिलाओं ने जमकर विरोध किया ।इतना ही नही कस्माबाद मोड़ के समीप अंग्रेजी शराब की दुकान पर महिलाओं और पुरुषो का हंगामा इस कदर रहा कि लाठी डंडे से शराब की दुकानों हंगमा करना शुरु कर दिया। आक्रोशित महिलाओं का हंगामा अब तो थमने का नाम नही ले रहा हैं। योगी सरकार के आते ही मुख्य मंत्री का फरमान जारी हुआ और महिलाओं को अब लगता हैं कि कोई तो सरकार हैं। जो महिलाओं के पक्ष में दिखता नजर आ रहा हैं।

गौरतलब है कि ऐसा किसी एक स्थान पर नहीं है, प्रदेश के कई स्थानों पर महिलाओं का शराब बंदी अभियान देखने को मिला है। कई जगहों पर हंगामे ने शराब व्यापारियों का लाखों का नुकसान भी कराया है, जहां पर उग्र भीड़ ने शराब की बोतलों का सड़कों पर रखकर तोड़ दिया।

 -संजय कुमार तिवारी