पशुओं की मौत पर बजरंग दल युवाओं ने किया सचिव निवास पर विरोध प्रदर्शन

किशनगंज। गौहत्या और बिक्री पर रोक लगने के बाद जिले में कई गौशाला तो बनी लेकिन उनमें पशुओं की देखभाल के कोई खास इंतजाम नहीं किए गए जिसकी वजह से गौशाला में पशुओं की मौत हो गई है। जिसके बाद जिले में गौशाला में पशुओं की मौत को लेकर स्थानीय बजरंग दल युवाओं और बालको ने गौशाला सचिव के निवास पर प्रदर्शन किया। बीते शुक्रवार शाम को गौशाला सचिव त्रिलोकचंद जैन के निवास पर बजरंग दल युवाओं ने गौशाला से मरे गौ के शव को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। गौशाला में पशुओं की सुरक्षा पर उचित व्यवस्था की मांग की।

बता दें कि गौशाला बनाए जाने के बाद उनमें गायों को रखा तो गया लेकिन न तो उसके बाद उनके चारे का कोई ध्यान रखा गया और न ही उनके घुमने फिरने का जिसकी वजह से गौशाला में रहने वाली गायों कि मौत हो गई। दरअसल फिछले दो महीने से गौशाला में लगातार पशुओं की मौते हो रही है। अब तक गौशाला में पशुओं की लापरवाही के चलते पचास से ज्यादा पशुओं की मौत हो चुकी है। जिसको लेकर बजरंग दल के युवा विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।
बता दें कि पिछले दो महीने में लगातार पशुओं की मौत हो रही है। अब तक पचास से अधिक पशुओं की मौत गौशाला में लापरवाह व्यवस्था में हो चुके हैं। इसीलिए गौशाला में व्यवस्था में सुधार की मांग लगातार शहरवासी उठाते रहे हैं। गौशाला के पदेन अध्यक्ष एसडीओ मो. शफीक मामले में गौशाला का निरीक्षण भी किया लेकिन तथ्य सही पाने के बाबजूद कोई कार्यवाही नहीं हुई है। इससे गुस्साए युवाओं ने पशुओं की सुरक्षा के मांग लेकर पूर्व की समिति भंग कर उचित हाथों में सौपने की मांग की, ताकि पशुओं की सुरक्षा हो सके।