पार्सल कारोबार के लिए रेलवे-भारतीय डाक में हुई साझेदारी

नई दिल्ली। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में पार्सल व्‍यवसाय में भारतीय डाक के साथ नई साझेदारी और नई खानपान नीति 2017 की शुरूआत की।

सुरेश प्रभु ने कहा कि नई कैटरिंग नीति में खाद्य सामग्री बनाने और उसके वितरण के काम को अलग-अलग किया जाएगा। खाना आईआरसीटीसी की आधुनिक किचेन जैसी किसी जगह पर भी पकाया जा सकता है और इसके वितरण में आतिथ्‍य उद्योग के पेशेवर लोगों को लगाया जा सकता है।

प्रभु ने कहा कि पार्सल भारतीय रेल का तेजी से बढ़ता मालभाड़ा व्‍यवसाय है। नई व्‍यावसायिक पार्सल नीति के माध्‍यम से न केवल भारतीय डाक बल्‍कि निजी क्षेत्र द्वारा पार्सल भेजने के लिए स्‍थान की बुकिंग कराई जा सकती है। पूरे देश में लागू करने से पहले इस योजना का परीक्षण दो रेलगाड़ियों- हावड़ा और गुवाहाटी के बीच गाड़ी संख्‍या 15959 हावड़ा-गुवाहाटी-डिब्रूगढ़ कामरूप एक्‍सप्रेस तथा हैदराबाद और निजामुद्दीन के बीच गाड़ी संख्‍या 12721 हैदराबाद-निजामुद्दीन डेक्‍कन एक्‍सप्रेस-में किया गया। उन्होंने कहा कि सफल परीक्षण के बाद अखिल भारतीय स्‍तर पर आज इसे लांच किया गया।