आडवाणी के साथ खेला गया राजनीतिक खेल : लालू

पटना। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अयोध्या विवादित ढाचे मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। लालू ने कहा जिन लोगों ने बाबरी मस्जिद गिराई थी उनपर केस दर्ज होना चाहिए। उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए राजद प्रमुख ने ये बात कही।

इसके साथ ही उन्होंने कहा, भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी को उन्होंने ही गिरफ्तार कराया था। अब आडवाणी का गिरफ्तारी से बचना मुश्किल है। सीबीआई प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथ में है। यह एक ऐसा मामला है जहां अपने पराये का भी खयाल नहीं रखा जाता। मामले को राजनीतिक रंग देते हुए उन्होंने कहा कि लाल कृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति बनने से रोकने के लिए ही सीबीआई ने उच्चतम न्यायालय में इस मामले में मुकदमा फिर से चलाये जाने की दलील दी थी। ये एक बहुत बड़ा राजनीतिक खेल खेला गया।  जिसके बाद कोर्ट ने सीबीआई को 2 साल के अंदर इस मामले का निपटारा करने का निर्देश दिया है।

लालू ने कहा साल 1990 में सोमनाथ से अयोध्या के लिए रथ यात्रा पर निकले आडवाणी ने पूरे देश में साम्प्रदायिक सदभाव बिगाड़ने की कोशिश की थी जिसके बाद आडवाणी को बिहार के समस्तीपुर जिले में गिरफ्तार करवाया था।