पुलिस की कार्यप्रणाली एक बार फिर सवालो के घेरे में

अम्बेडकरनगर। पुलिस की कार्यप्रणाली एक बार फिर सवालो के घेरे में आ गयी है। घटना के घंटो बाद पहुची स्थानीय पुलिसऔर 100 नम्बर पर कई सवाल खड़े हो रहे है। थाने से कुछ ही दूरी पर जो हुआ वह नहीं होता शायद यदि पुलिस समय से पहुंच जाती। इब्राहिम पुर थाना क्षेत्र के जिंगना गाव में कुछ अराजक तत्वो ने जबरदस्त तांडव किया और पुलिस को पहुचने में घंटो लग गया।

मामूली विवाद के बाद अराजक तत्वो द्वारा जो नंगा नाच किया गया चारो तरफ ऑफर तफरी का माहौल रहा। लोग भयभीत होकर इधर उधर भाग रहे थे। लेकिन कुछ उपद्रवियों ने स्थानीय पुलिस की लापरवाही के चलते जो जहाँ मिला उसे वही पीटते नजर आये और कानून का उनके अंदर जरा भी खौफ नही रहा। कानून के साथ उन्होंने जबरदस्त नंगा नाच किया। कई बाइकों एवं ट्रैक्टरों को क्षति ग्रस्त कर दिया गया और दुकानों में लूट पाट भी किया गया।

लोग 100 नम्बर को फोन करते रहे लेकिन वे भी समय से नही पहुचे और स्तानीय पुलिस की भूमिका पूरी तरह से संदिग्ध नजर आ रही है। घटना के कई घंटो बाद पहुंची। पीड़ितो की माने तो पुलिस पैसे लेकर बिक गयी थी इसलिए नही जा रही थी। बाद में देर शाम तक सैकड़ो की संख्या में लोग थाने के अंदर पहुच कर अपना एफआईआर की तहरीर दिए और थाने का घेराव भी किये। जनमानस के साथ साथ बीजेपी जिला अध्यक्ष के छोटे भाई और भतीजे को भी बुरी तरह से पिटा गया है। तो और एक विद्यालय में भी घुसकर अराजक तत्वो ने जमकर तांडव किया शिक्षिका को भी नही बक्श गया।

कार्तिकेय द्विवेदी, संवाददाता