फर्जी रेप की खबर से हंगामा, पुलिस जांच में जुटी

मेरठ। बुधवार शाम कक्षा 4 की छात्रा के साथ स्कूल में रेप की तथाकथित घटना ने पूरे शहर की सांसें रोक दी। आरोप गैर मजहब के दो लड़को पर लगे थे जो उसी स्कूल में पढ़ते थे। पुलिस मौके पर पहुंचती उससे पहले ही मौहल्ले के लोगों ने स्कूल में जमकर बवाल काटा। स्कूल में अंदर घूसकर तोड़फोड़ भी की गई तथा सड़क को भी जाम कर दिया गया। संदिग्धों को हिरासत में लेने के बावजूद भी नेताओं की राजनीति से देर रात तक हंगामा चलता रहा।

police investigate, fake rape case, crime, crime news, police, up, meerut
Ruckus in meerut

इस दौरान कई वाहन ड्राइवर राह चलते पीटे गए। गाड़ियों में आग लगाने की कोशिश की गई। जिला प्रशासन के आदेश पर डाक्टरों के पैनल ने जब छात्रा का मेडीकल परीक्षण किया तो दुष्कर्म जैसी घटना की पुष्टि नही हो सकी। जिसके बाद देर रात छात्रा ने खुद कह दिया कि उसके साथ कोई वारदात नही हुई। पुलिस की तफ्तीश में पता चला है कि मौहल्ले की झोलाछाप महिला डॉक्टर ने बच्ची के साथ दुष्कर्म होना बता दिया जिसके बाद इलाके के लोगों ने जमकर हंगामा किया।

इस साजिश के तहत आधी रात तक सड़कों पर बवाल होता रहा। लोगों ने सड़कों पर वाहनों के ड्राइवर्स से मारपीट की और कुछ गाड़ियों में आग लगाने की कोशिश भी की गई। आधी रात को पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। लेकिन इस बवाल के पीछे की हकीकत पुलिस की तफ्तीश में सामने आई है। पुलिस ने अब केस की तफ्तीश के साथ आरोपियों को चिह्नित करने की प्रक्रिया शुरू की है। फिलहाल पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर दिया था।