3 मुन्ना भाई के साथ गुरु जी को पुलिस ने किय गिरफ्तार

बलिया। यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में खुलेआम हो रहे नकल ने नाक में डैम कर रखा है। ऐसे में सरकार के सख्त रवैये से जिले के सोये अधिकारी जाग गए है लिहाज़ा पेपर लीक मामले में जिलाविद्यालय निरीक्षक और एसओजी टीम ने एक परीक्षा केंद्र से दो मास्टरमाइंड को गिरफ्तार करते हुए 3 मुन्ना भाई खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा गया।

यूपी में सरकार बदल गई और बदल गए सरकार के मुखिया पर नहीं बदला तो बोर्ड परीक्षाओं में नक़ल का कारोबार। पूरे यूपी के साथ साथ बलिया जनपद में भी नक़ल के कारोबार के ज़रिये शिक्षा माफियाओं द्वारा पेपर आउट कराने का कारनामा भी प्रशाशन के लिए चुनौती बन गया था। लिहाज़ा बलिया के जिला विद्यालय निरीक्षक ने एसओजी के साथ जब पेपर लीक मामले की छानबीन की तो शिवसागर राम प्रजापति इंटर कालेज , खारी के केंद्र व्यवस्थापक सहित प्रबंधक को गिरफ्तार कर लिया गया।

जिला विद्यालय निरीक्षक का पैर पर पकड़ कर रोता ये शख्श कोई और नही बल्कि केंद्र संचालक गुरु जी है। आज तक गुरु जी के सभी पैर पड़ते होंगे पर सभी बच्चे भी हैरान होंगे कि गुरु जी किसी अधिकारी का पैर पकड़ कर क्यो गिड़गिड़ा रहे है शायद उन्हे नही पता होगा कि पेपर लीक का वो मास्टर माइंड है जिसपर आरोप है की परिक्षा के पहले ही उसने परीक्षा का पेपर आउट करा दिया था। दरसल इस मामले को सुलझाने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक ने एसओजी की मदद ली क्योकी जो व्यक्ति फोन पर पेपर लीक मामले से जुड़ा था उसका लोकेशन भीमपुरा और नगरा बताया जा रहा था।

बलिया जनपद में नक़ल का नेटवर्क इतना बड़ा है की प्रशाशन के हर पैतरों को ये शिक्षा माफिया भारी पड़ते है। करोड़ों के इस कारोबार में फायदा तो विद्यालय चलाने वालों को मिलता है पर नुकसान उन छात्रों को उठाना पड़ता है जिनसे नक़ल के नाम पर मोटी रकम वसूली जाती है। यही वजह है की कई छात्र परीक्षा के दौरान जाच टीम को ऐसे भी मिले जो दूसरे छात्रछात्रों की जगह पर परीक्षा दे रहे थे।

 संजय कुमार तिवारी, संवाददाता