पीएम मोदी ने लगाई सांसदों की क्लास, बोले- बर्दाश्त नहीं होगी अनुपस्थिति

नई दिल्ली। संसद का मानसून सत्र शुरू होने से लेकर अभी तक हंगामेदार रहा है। बीते सोमवार को स्पीकर पर कागज उछालने के लिए सुमित्रा महाजन ने 6 कांग्रेसी सांसदों को लोकसभा से सस्पेंड कर दिया था। अब मंगलवार को इसी मुद्दे पर दोनों सदनों का माहौल गरमा सकता है। बीते सोमवार को मॉब लिंचिंग पर बहस की मांग करते हुए सुमित्रा महाजन की ओर कागज उछाले थे। सदन की शुरुआत से पहले विपक्ष ने संसद के बाहर गांधी मूर्ति के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि अभी लोकसभा 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

PM Modi, class, MP, speaks, tolerate, absenteeism, monsoon session
PM Modi not tolerate absenteeism

बता दें कि मंगलवार को ससंद का सत्र शुरू होने से पहले बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई, जिसमें पीएम मोदी भी हिस्सा लेने पहुंचे। वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज ही संसद में इराक में लापता 39 भारतीयों के मुद्दे पर अपना जवाब दे सकती हैं। बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने सांसदों की क्लास ली। पीएम मोदी ने कहा कि सांसदों को राज्यसभा में मौजूद रहा करें, कई बार कोरम पूरा ना होने के कारण लंच के बाद सदन शुरू होने में देरी हो जाती है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को सांसद लंच के बाद सदन में नहीं आते हैं, ये ठीक नहीं है। सांसदों की उपस्थिति कम होने से बिल पास नहीं हो पाते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि सदन में अनुपस्थिति मैं बर्दाश्त नहीं करुंगा।

साथ ही बीजेपी की संसदीय दल की बैठक के बाद अनंत कुमार ने कहा कि बैठक में पीएम ने संबोधित किया, पीएम ने 70 साल की आजादी के वर्षगांठ के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त से 15 अगस्त तक कार्यक्रम किए जाएंगे, 15 से 30 अगस्त तक संकल्प पत्र की घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले 5 साल में हर क्षेत्र में जो भी कार्यक्रम किए जांएगे, उसके बारे में लोगों को बताया जाएगा। अनंत कुमार ने बताया कि पीएम ने कहा कि 1857 में पहली आजादी मिली थी, 1942 में एक मुकाम हासिल हुआ था। 1947 से 2017 तक भारत ने ऊंचाई हासिल की। 2022 तक भारत एक शक्ति बनकर उभरेगा।