सूबे के अंदर एंबुलेंस में नहीं है पेट्रोल

बलरामपुर। योगी सरकार के तमाम दावों के बावजूद स्वास्थ्य सेवाओं का हाल सुधरने के बजाए और खराब होता जा रहा है। डॉक्टरों की कमी तो पहले से ही थी अब एंबुलेंस भी बीमार हो चुकी हैं। इंधन के अभाव में एंबुलेंस के चक्के थम गए हैं। गरीब व असहाय जनता के लिए लाइफ लाइन बन चुके हैं 108 व 102 एंबुलेंस सेवा ठप हो जाने से मरीजों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

petrol, diesel, ambulance, balrampur, up, hospital
petrol in ambulance

जिम्मेदार अधिकारी बजट न होने का रोना रो रहे हैं वही प्रदेश सरकार के प्रभारी मंत्री जानकारी ना होने की बात कहकर पल्ला झाड़ रहे हैं । यहां यह बताना जरूरी होगा कि योगी सरकार के चीनी उद्योग एवं गन्ना राज्यमंत्री व बलरामपुर जनपद के प्रभारी सुरेश सिंह राणा से जब पूछा गया तो उन्होंने एंबुलेंस सेवा ठप होने की बात से अनभिज्ञता जताई और बिना कुछ उचित जवाब दिए चलते बने। अब सवाल यह उठता है कि जब सरकार में शामिल शामिल मंत्री ही इस प्रकार पल्ला झाड़ लेंगे तो आम जनता और मरीजों का क्या होगा। क्या यही है योगी जी के बड़े बड़े दावे, ऐसे ही पूरा होगा सभी को शिक्षा सभी को स्वास्थ्य का वादा यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।