बढ़े हुए भत्ते के साथ 48 लाख कर्मचारियों को मिलेगी जुलाई की सैलरी

नई दिल्ली। सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक सभी भत्तों के लिए बजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया है जो कि 1 जुलाई से लागू होगा। शुक्रवार को प्रकाशित इस नोटिफिकेशन में भत्तों पर सातवें वेतन आयोग को सरकार से मिली मंजूरी का जिक्र है। अलाउंसेज पर कमिटी की रिपोर्ट को केन्द्रीय कैबिनेट ने बीती 28 जून को 34 भत्तों में सेशोधन के साथ मंजूरी दी थी ऐसे में 48 लाख कर्मचारियों को जुलाई की सैलरी बढ़े हुए भत्तों के साथ मिलेगी।

इस मामले के जानकार नवदीप सिंह ने जानकारी दी है कि इसमें भत्तों की संख्या 197 से घटाकर 128 कर दी गई है लेकिन रिस्क और कठिनाई मद में सियाचिन के नाम पर भत्ता अफसरों के लिए 42,500 रुपए जबकि अन्ट रैंक के लिए 30 हजार रुपए होगा। सातवें वेतन आयोग ने 31500 और 21 000 रुपए की ही सिफारिश की थी। एचआरए की दर घटाकर तमाम शहरों के लिए 24, 16 और 8 फीसदी होगी हांलाकि डीए के मुतचाबिक बदलाव हो सकता है लेकिन किसी भी कर्मचारी के लिए यह 5400, 3600, 1800 रुपए सेकम नहीं होगा।

ड्रेस भत्ता अलग-अलग कैटिगरी में 5 हजार, 10 15 हजार और 20 हजार यूनिफॉर्म से जुड़े अन्य सभी भत्ते इसमें समाहित हो जाएंगे। राशन मनी अलाउंस खत्म नहीं किया गया है, बल्कि इसे पीस स्टेशनों पर तैनात अफसरों की सैलरी के साथ वास्तविक खरीद के आधार पर दिया जाएगा। फील्ड एरिया भत्ता 6000 से 16900 के बीच होगा। उग्रवाद रोधी भत्ता भी इतना ही होगा। रक्षा कर्मियों के लिए डेपुटेशन ड्यूटी अलाउंस की सीलिंग 2000 से 4500 की जगह 4500 से 9000 प्रति माह होगी।