दूल्हे को दुल्हन देख बोल पड़ी डुप्लीकेट दूल्हा

नई दिल्ली। हर लड़की अपनी शादी को लेकर के ख्वाब संजोती हैं और ऐसा ही कुछ सीतामढ़ी जिले के सोनबरसा थाना क्षेत्र के जयनगर पंचायत स्थित कोहरबवा गांव की रहने वाली युवती अपने आंखों में नए सपने सजाए दुल्हन अपने होने वाले दुल्हे का इंतजार कर रही थी, लेकिन जब बरात आने के बाद वह चुपके से खिड़की से दूल्हे को देखने गई तो जब सेहरा हटा और उसने दूल्हे का चेहरा देखा तो देखते ही चीख पड़ी और रोती हुई बोली-ये तो डुप्लीकेट दूल्हा है, मैं तो इससे कभी शादी नहीं करूंगी।
लड़की के घर वालों ने नाराज परिजनो को दूल्हे समेत बंधक बना लिया।


जानकारी के अनुसार, कोहबरवा गांव के युवती की शादी मुजफ्फरपुर जिले के गंजबाजार स्थित गोलगामा गांव निवासी स्वर्गीय युगल साह के पुत्र मुकेश कुमार से तय हुई थी। रविवार की रात बरात आई। दरवाजा लगाने की प्रक्रिया पूरी हो रही थी। दुल्हन के दरवाजे पर रथ पर सवार दूल्हा पहुंचा।

खिड़की से दुल्हन ने दूल्हे को देखा तो उसके होश उड़ गए। उसने अपनी भाभी से कहा कि दूल्हा बदला हुआ है। जिसकी तस्वीर दिखाई गई थी वो दूल्हा नहीं है। धीरे-धीरे यह बात आग की तरह फैल गई। दुल्हन के भाई मुकेश साह ने भी दूल्हे को देखा तो आक्रोशित हो गए। बरात में अफरातफरी मच गई।

ग्रामीणों ने बरातियों को बंधक बनाना शुरू किया तो बरातियों ने कहा कि हम लोग हलुवाई जाति की शादी में नहीं आए हैं, यादव की शादी में आए हैं। यह सुनकर परिजन एवं ग्रामीण सन्न रह गए। बताते हैं कि दुल्हन का चचेरा भाई विकास साह एवं दूल्हे का भाई सुरेश राय पटना में किसी मिठाई की दुकान में नौकरी करते हैं। इन्हीं दोनों की मध्यस्थता से शादी तय हुई।
लड़की पक्ष को दूसरे लड़के की तस्वीर दिखाई गई। लड़की के भाई ने हामी भर दी। दोनों पक्ष ने गांव समाज में शादी का कार्ड बांटा। वर पक्ष ने वधू पक्ष के पिता का नाम स्वर्गीय… साह के बदले … राय छपवाया। वहीं वधू पक्ष के कार्ड पर वर पक्ष के पिता नाम स्वर्गीय युगल राय के बदले युगल साह लिखवाया।

पंचायत में दूल्हे ने बताया कि वह चेन्नई में प्राइवेट काम करता है। उसने अपने भाई के पास अपनी तस्वीर भेजी थी। लेकिन, भाई ने किसी दूसरे की तस्वीर वधू पक्ष को दे दी। जाति बदले जाने की भी जानकारी उसको नहीं दी गई थी। बहरहाल, करीब एक लाख रुपये देने के बाद दूल्हा एवं परिजन को ग्रामीणों ने मुक्त कर दिया।