मरीजों का मसीहा बना रोगी सहायता केंद्र, फीवर डेस्क दूर करेगी मरीजों का बुखार

हरदोई। जनपद में बढ़ रहे फीवर से सम्बंधित मरीजों के लिए जिला अस्पताल प्रशासन की और से फीवर डेस्क का संचालन शुरू किया गया है। इस डेस्क पर चिकित्सक के द्वारा मरीजों का परीक्षण कर उनको सही और बेहतर उपचार दिया जा रहा है। फीवर डेस्क में तैनात चिकित्सकों द्वारा कई मरीजों को गम्भीर बीमारियों से भी बचाया गया है तथा उचित दवाएं उप्लब्ध कराई जा रही हैं। हरदोई जिला अस्पताल के ओपीडी के कमरा नम्बर 8 में अस्पताल प्रशासन की ओर से फीवर हेल्प डेस्क का संचालन शुरू किया गया है। जिसमें बुखार से सम्बंधित मरीजों का परीक्षण कर चिकित्सकों में उनकों बेहतर इलाज दे रहे हैं। जिससे अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों ने भी चेन की सास ली है और मरीजों को झोलाछाप चिकित्सकों के पास नही जाना पड़ता है।

patient, help center, a savior,Patients, Fever desk, away, patients, fever,
Fever desk

जिला अस्पताल में संचालित हो रहे रोगी सहायता केंद्र अंजान मरीजों का मसीहा बनता जा रहा है। जिला अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों को रोगी सहायता केंद्र कर्मी उनकी बीमारी के हिसाब से उनकों उसी से सम्बन्धित चिकित्सक के पास लेकर जाते हैं और चिकित्सक को मरीज की बीमारी से भी अवगत करा देते हैं। जिससे मरीजों को इधर-उधर इलाज के लिए भटकना नही पड़ता है। रोगी सहायता केंद्र के मैनेजर मो0 रईस खां ने बताया कि उनका रोगी सहायता केंद्र सुबह के 8 बजे से लेकर रात के 8 बजे तक खुला रहता है। जिस दौरान इस बीच जितने भी अंजान मरीज रोगी सहायता केंद्र आते हैं, उनको सहायता केंद्र कर्मी उसी रोग से सम्बंधित चिकित्सक के पास पहुंचने का काम करते हैं।