रामदेव का एलान, शहीदों के बच्चों के लिए नि:शुल्क आवासीय स्कूल खोलेगा पतंजलि

नई दिल्ली। देश में स्वदेशी को शिखर पर पहुंचाने वाले योग गुरु बाबा रामदेव ने पतंजलि की सालान प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि कंपनी ने जो पैसा कमाया है उसे वो निस्वार्थ भावना से खर्च करेगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रामदेव ने ऐलान किया कि निस्वार्थ के भावना का एक कदम बढ़ाते हुए शहीद जवानों के बच्चों के लिए नि:शुल्क आवासीय स्कूल खोलने का भी भरोसा दिया है।

रामदेव ने बताया कि शहीदों के लिए पतंजलि लगातार चिंतित रहा है। बाबा ने कहा कि हम इसी दिशा में एक ऐसा नि:शुल्क आवासीय स्कूल बनाने जा रहे हैं जिसमें एक हजार लड़के रह कर पढ़ाई कर सकेगें।उन्होंने कहा कि हम दिल्ली एनसीआर के इर्द गिर्द ऐसा स्कूल खोलने की योजना में हैं। हमने इसलिए देश का केन्द्र चुना है जिससे पूरे देश के बच्चे इसका लाभ उठा सकेगें। इसी के साथ उन्होंने बताया कि सुकमा में शहीद हुए जवानों के परिवार की मदद के लिए हमनें दो-दो लाख की सहायता दी है।

इस अवसर पर बाबा ने बताया कि पतंजलि का टर्नओवर 10 हजार 561 करोड़ हो गया है और कंपनी 100 फीसदी की रफ्तार से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि पतंजलि 2 साल में सबसे बड़ा स्वदेशी ब्रांड होगा। इस समय पतंजलि की 30 से 35 हजार करोड़ सालाना की प्रोडक्शन कैपिसिटी है। अगले साल तक यह क्षमता 60 हजार करोड़ तक होगी।