सोशल मीडिया पर आलोचना से परिजन होते हैं निराश : नील

नई दिल्ली। अभिनेता नील नितिन मुकेश हमेशा से सोशल मीडिया पर होने वाली आलोचनाओं का शिकार रहे हैं। हालांकि उनका कहना है कि इससे उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन उनके परिवार के सदस्यो कभी-कभी निराश जरूर हो जाते हैं। सोशल मीडिया पर अक्सर नील के अभिनय कौशल और उनके नाम को लेकर मजाक बनाया जाता है।

इन आलोचनाओं से प्रभावित होने के बारे में पूछे जाने पर नील ने आईएएनएस को बताया, बिल्कुल भी नहीं। इससे मेरे परिवार के सदस्य जरूर नाराज होते हैं, लेकिन मैं उन्हें समझाता हूं और उनसे निराश न होने के लिए भी कहता हूं।

neil

नील ने हाल ही में पशुओं के अधिकारों के लिए काम करने वाले संगठन ‘पेटा’ से हाथ मिलाया है। उनका कहना है कि कभी-कभी लोग फिल्म सितारों का ध्यान उनकी ओर खींचने के लिए ऐसी बातें कहते हैं। बॉलीवुड अभिनेता ने कहा, एक व्यक्ति मुझे हर दिन ट्विटर पर कुछ न कुछ गलत कहता था। एक समय तक मैंने इसे नजरअंदाज किया, लेकिन एक दिन मैंने अति होने पर उसकी आलोचनाओं का जवाब देते हुए कहा कि क्या परेशानी है आपको? इस पर उसने कहा कि वह केवल मेरा ध्यान उसकी ओर खींचना चाहता था क्योंकि वो मेरा बहुत बड़ा प्रशंसक है।

दिग्गज गायक नितिन मुकेश के बेटे और महान गायक मुकेश के पोते नील ने कहा कि उनका नाम का मजाक बनाए जाने पर उनके पिता अक्सर निराश हो जाते हैं। नील को पिछली बार बिजॉय नाम्बियार की फिल्म ‘वजीर’ में देखा गया था। इस फिल्म में उनके अलावा अमिताभ बच्चन और फरहान अख्तर भी मुख्य भूमिका में थे।