इस्तीफों का दौर जारी, पराग चेयरमैन ने भी दिया त्यागपत्र

मेरठ। उत्तर प्रदेश की सत्ता परिवर्तन के बाद लगातार अब इस्तीफों की होड़ सी लग गई है। जिसको लेकर मेरठ में भी जिला पंचायत में अविश्वास प्रस्ताव के बाद अब गगोल सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ लिमिटेड की मण्डल चेयरमैन इंद्रेश गुर्जर ने जिलाधिकारी को अपना त्याग पत्र दे दिया है।

इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया है कि लगातार विपक्षी पार्टी द्वारा उनके काम में बाधा डाली जा रही है और उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा। जिसको लेकर वह सही तरह से अपने कार्यो का निर्वाह नहीं कर पा रहे।

सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक पूर्व कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर के घर पर बैठकर त्याग पत्र की रणनीति बनाई गई। साथ ही आरोप लगाए गए हैं कि लगातार उनके ऊपर दबाव बनाए जा रहे हैं और उल्टे सीधे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं।

जिसको लेकर वह पूरी तरह से अपने आप को पीड़ित महसूस कर रही हैं। जिसको लेकर आज तमाम सपा के नेता भी और कार्यकर्ता सहित सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ के सदस्य जिलाधिकारी से मिले। आज तहसील दिवस में जिला अधिकारी को पत्र सौंपकर इंद्रेश ने अपना त्यागपत्र देने का प्रार्थना पत्र दिया। जिसमें तमाम सपा के नेता वह गंगोल सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ लिमिटेड के सदस्य भी शामिल थे।इस दौरान इंद्रेश कुमारी के पति वेदप्रकाश ने हस्तिनापुर सीट के भाजपा विधायक पर कई आरोप लगाए

वही, जिलाधिकारी का कहना है कि निगम के डायरेक्टर ने खुद ही अविश्वास प्रस्ताव उनके समक्ष रखा था हलाकि अविश्वास प्रस्ताव की तारीख आने से पहले ही इन लोगों ने आज अपना इस्तीफा उन्हें सौंप दिया है अब आगे की कार्रवाई बाकी है।

शानू भारती, संवाददाता