नोएडा में पाकिस्तानी बच्चे का सफल इलाज, पिता ने कहा देश को शुक्रिया

नई दिल्ली। सीमा पर पाकिस्तान और भारत के बीच चाहे कितने भी खराब रिश्ते क्यों न हो लेकिन दोनों देशों के लोगों के बीच कितना प्यार है इस बात का अंदाजा इस बात से बखूबी लगाया जा सकता है। पाकिस्तान के रहने वाले महज तीन महीने के रोहन के दिल में एक नहीं दो नहीं बल्कि 7 छेद थे। रोहन के इलाज के लिए जब पाकिस्तान के सभी डॉक्टरों ने जवाब दे दिया उसके बाद रोहन के पिता ने रोहन के इलाज के लिए भारत को चुना। लेकिन रोहन के पिता के लिए भारत में मेडिकल वीजा पाना आसान नहीं था। रोहन के पिता कवंल सिद्दीकी ने इसके लिए सोशल मीडिया पर भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद मांगी जिसके बाद सुषमा ने बिना देर किए कवंल की मदद की और कवंल को बेटे के इलाज के लिए मेडिकल वीजा मुहैया कराई।

Pakistan, child, successful, treatment, Noida, india
pakistani child

कवंल के बेटे का नोएडा में सफल इलाज

बता दें कि भारतीय मेडिकल वीजा मिलने के बाद कवंल ने बेटे को नोएडा अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका पूरी देखभाल के साथ इलाज किया गया और आज रोहन पूरी इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ है और अपने घर पाकिस्तान जा रहा है। बेटे के सफल इलाज के बाग रोहन के पिता ने देश का धन्यवाद किया और शुक्रिया करते हुए रोहन के पिता रोने लगे।

कवंल ने किया भारत का शुक्रिया

वहीं डॉक्टरों का कहना है कि रोहन का इलाज आसान नहीं था। लेकिन फिर भी डॉक्टरों ने पूरी मेहनत और लगन से रोहन का इलाज किया। जिसकी वजह से आज रोहन पूरी तरह से स्वस्थ और दुरूस्त है। कवंल ने भारत का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि भले ही लोग भारत पाकिस्तान के बारे मं गलत सोचते हो लेकिन भारत और पाकिस्तान के रहने वाले लोग एक दूसरे के बारे में बहुत सोचते हैं और एक दूसरे का भला चहाते हैं। बहरहाल एक बात तो साफ है कि भारत हमेशा ही दूसरों की मदद के लिए आगे रहता है।