पाकिस्तान में टॅायलेट साफ करने से इनकार करने पर छात्रा को फेंका इमारत से

नई दिल्ली। पाकिस्तान में शिक्षा का स्तर किसी से छुपा नही हैं दूसरी तरफ पाकिस्तान मे शिक्षिकाओं द्वारा छात्राओं के साथ अभ्रद्र व्यवहार का मामला सामने आया है पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में कक्षा की सफाई करने से इनकार करने वाली 14 साल की एक लड़की को उसकी दो शिक्षिकाओं ने स्कूल की इमारत की छत से कथित तौर पर धक्का दे दिया।

नौवीं कक्षा की छात्रा फज्जर नूर लाहौर के घुरकी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही है. उसकी हड्डियां कई जगह से टूट गई हैं और उसकी रीढ़ की हड्डी भी टूट गई है।

नूर ने होश में आने पर डॉन न्यूज से कहा, मेरी कक्षा की शिक्षिकाओं बुशरा और रेहाना ने मुझे कक्षा की सफाई करने का आदेश दिया क्योंकि 23 मई को कक्षा की सफाई करने की बारी मेरी थी। मैनें उन्हें कहा कि मैं स्वस्थ महसूस नही कर रही मैं किसी और दिन सफाई करुगी।

पंजाब के शिक्षा सचिव स्कूल अल्लाह बख्श मलिक ने कहा कि यह घटना छिपाने के कारण जिला भेज दोनो शिक्षिकाओं को निलबिंत कर दिया गया हैं। शाहदरा टाउन की पुलिस ने शिक्षिकाओं के खिलाफ धारा 324 हत्या का प्रयास के तहत एफ आई आर दर्ज कर ली हैं।