प्यार पर पाक की ‘नापाक’ नजर

इस्लामाबाद। एक ओर जहां पूरा देश आज के दिन प्यार का जश्न मना रहा है तो वहीं पाकिस्तान में इस जश्न पर पहरा लगा दिया गया है। दरअसल इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने आदेश देते हुए कहा कि वैंलेनटाइन डे पर किसी सरकारी कार्यालय या फिर सार्वजनिक स्थान पर कोई जश्न नहीं होगा।

अदालत ने फरमान जारी करते हुए कहा कि ये आदेश तुरंत प्रभावी किया जाए। यानि प्रिंट या फिर इलेक्ट्रानिक मीडिया पर वैंलेनटाइन डे से जुड़े किसी भी प्रमोशन और संदेश पर भी पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। जस्टिस शौकत अजीज ने अपने फैसले में सूचना मंत्रालय, इलेक्ट्रानिक मीडिया को बताने को कहा कि वे इस आदेश को कैसे लागू करेंगे।

हाईकोर्ट ने ये फैसला एक आम आदमी अब्दुल वहीद की याचिका पर दिया है। वहीन ने एक याचिका दाखिल करते हुए कहा था कि मीडिया और सोशल मीडिया में वैंलेनटाइन डे का प्रमोशन करना इस्लामिक शिक्षा के खिलाफ है और इस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगानी चाहिए। हालांकि इस वैंलेनटाइन डे के दिन पाकिस्तान में लोगों का मिला जुला रुख देखने को मिलता है। इस दिन पाकिस्तान ने कई बड़े शहरों जैसे इस्लामाबाद, कराची और लाहौर में होटल, रेस्तरां और अन्य स्थलों में कपल्स को देखा जाता है।

वैंलेनटाइन डे की जगह मनाते है हया डे:-

कई और देशों की तरह पाकिस्तान में भी इस दिन को लेकर कई तरह की खबरें सुनने को मिलती है साथ ही विरोध के नय फॉर्मूले को भी अपनाया जाता है। इस दिन पाकिस्तान के कई हिस्सों में हया डे यानि कि शर्म दिवस के रुप में मनाते है और नो टू वैंलेनटाइन डे अभियान चलाते है।