“स्कूल बस की टक्कर से बाईक सवार 4 युवकों की मौके पर ही दर्दनाक मौत “

मुज़फ्फरनगर /चरथावल। गांव से क़स्बा जा रहे एक बाईक पर 4 युवकों को स्कूली बस ने अपनी चपेट में ले लिया जिससे बाईक सवार 4 में से 3 ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। जबकि चौथे व्यक्ति ने अस्पताल पहुंचने से पहले ही रास्ते में दम तोड़ दिया था। जिससे परिजनों ने चारों के शवों को बीच सड़क पर रख देर शाम तक मु.नगर के चरथावल मार्ग को अवरुद्ध किए रखा। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस एवम् प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन पर जाम खोला गया।

"Painful, death, on spot, 4 youths, riding,bike, school bus, collision", crime, police,
accident

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार थाना चरथावल के गांव अमिगड़ से 4 युवक एक ही बाईक पर सवार होकर चरथावल किसी काम से गए थे। जैसे ही चारों मेन रोड पर पहुंचे तभी किसी स्कूल बस ने बाईक सवारों को अपनी चपेट में ले लिया और बस चालक बस को तुरंत मौके से लेकर फरार हो गया वहीं आस-पास के खेतों में काम करने वाले किसानों ने जहां एक तरफ पुलिस को सूचना कर बस रुकवाई वहीं घायलों को किसी पास के चलते अस्पताल लेकर चलने लगे लेकिन मौके पर ही 3 युवकों ने दम तोड़ दिया। वहीं चोथे युवक ने अस्पताल में पहुंचने से पहले ही दम रास्ते में दम तोड़ दिया। पुलिस ने किसी तरह चारों युवकों के बारे में जानकारी हासिल कर गांव में इसकी सूचना भिजवाई जहां से रोते बिलखते परिजन मौके पर पहुंचे और अपने नोनिहालों की पहचान की।

मरने वाले युवकों में 3 युवक गांव धमात थाना पुरकाजी जिनके नाम 1 मिंटू पुत्र ओमा उम्र 17 वर्ष। दूसरा अक्षय पुत्र सुदेश उम्र 21 वर्ष व तीसरा राहुल पुत्र राजकुमार उम्र 19 वर्ष जब की चौथा युवक रवि पुत्र सोमपाल उम्र 19 वर्ष निवासी अमिगड़ है। वहीं ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर चारों युवकों के शवों को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। उधर सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस एवम् प्रशानिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। वहीं दूसरी तरफ भाजपा जिलाध्यक्ष रूपेंद्र सैनी, पुरकाजी विधायक प्रमोद उंटवाल सहित बसपा विधायक अनिल कुमार, प्रेम चन्द गौतम भाजपा नेता सजंय धीमान आदि भी मौके पर पहुंचे और आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर किसी तरह जाम खुलवाने की कोशिश की। लेकिन ग्रामीणों ने एक तरफ जहां बस चालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की वहीं चारों मृतकों को मुआवजा मिलने की घोषणा तक जाम नही खोला। यह जाम देर शाम तक लगा रहा वहीं पुलिस एवम् प्रशासनिक अधिकारीयों के मुआवजे के आश्वासन पर जाम खोला गया।