बेनामी सम्पत्तियों के मालिक मंत्री तेजस्वी और तेज प्रताप को करें बर्खास्त: मोदी

पटना। बिहार विधान परिषद में विपक्ष के नेता एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ललकारा कि वे करोड़ों की बेनामी सम्पत्ति के मालिक अपने दो मंत्रियों तेजस्वी और तेज प्रताप यादव को म़ंत्रिमंडल से बर्खास्त करें।

एक प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि भाजपा और मीडिया ने पिछले 80 दिनों में उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव एवं स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव की स्वयं एवं उनके परिवार की एक हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की बेनामी सम्पत्ति को दस्तावेजों के साथ उजागर किया है। इसी के बाद आयकर विभाग ने बेनामी सम्पत्ति अधिनियम 2016 की धारा 24 (3) के तहत तेजस्वी परिवार 175 करोड़ की 14 बेनामी सम्पत्ति को जब्त करने का आदेश दिया है। प्रथम दृष्टया आयकर विभाग ने 14 बेनामी सम्पत्ति रखने का मामला सही पाया है।

मोदी ने सवालिया लहजे में कहा कि लालू प्रसाद के बेटे को भ्रष्टाचार के मामले में जीरो टार्लेंस की बात करने वाले मुख्यमंत्री क्या करोड़ों के बेनामी सम्पत्ति के मालिक अपने मंत्रियों तेजस्वी और तेज प्रताप से इस्तीफा लेंगे या बर्खास्त करेंगे ? उन्होंने कहा कि बिहार एक फिर बार 1996 के चारा घोटाले के दौर में पहुंच गया है । जब राज्य में 700 करोड़ का चारा घोटाला हुआ था और राज्य के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद को जेल जाना पड़ा था। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कहे मुताबिक जब बेनामी सम्पत्ति मामले में जब कार्रवाई कर दी तब अब नीतीश कुमार को अपने मंत्रियों को बर्खास्त करने में हाथ कांप रहे हैं।

प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने कहा कि अभी तो आयकर विभाग ने लालू परिवार की चार कम्पनियों पर ही कार्रवाई की है। वहीं, अभी तक उनकी आधा दर्जन कम्पनियां बची हुई हैं । इसके अलावा गिफ्ट एवं नौकरी के बदले जमीन लिखवाने जैसे दर्जनों मामले की जांच तो संभवतः प्रारम्भ भी नहीं हो पाई है।