ओवरलोड ट्रक ने छीनी फिर जिंदगियां

गोण्डा। सरकारी खाद्यान्न से ओवरलोड लदे एक ट्रक ने आज एक गरीब परिवार की दो ज़िन्दगियाँ छीन लिए। दिल दहला देने वाली ये खबर उत्तर प्रदेश के गोंडा ज़िले से है। यहां नगर कोतवाली क्षेत्र में शहर के स्टेशन रोड पर ट्रक ने बाइक सवार देवर भाभी को रौंद दिया। घटना में बाइक चला रहे 18 वर्षीय देवर व भाभी आशा की गोद में उसकी 2 वर्षीय बच्ची मोहिनी की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

gonda

बच्ची के सिर का बड़ा हिस्सा गायब हो गया। घटना से जहां पूरे क्षेत्र में हड़कम्प मच गया वहीं पूरे परिवार में कोहराम मच गया। घटना होते ही मौके से भाग रहे ट्रक को नगर कोतवाली पुलिस व पब्लिक ने चालक सहित ट्रक पकड़कर कोतवाली पहुंचा दिया और मौके से लाशें कब्जे में कर पोस्टमार्टम हेतु भेजने के साथ ही घायल महिला को सरकारी ज़िला चिकित्सालय पहुंचाया। यहां महिला खतरे से बाहर बताई जा रही है।

देहात कोतवाली क्षेत्र के कडवलिया गॉव निवासी गरीब देवप्रसाद के परिवार में कोहराम मचा हुआ है, परिवार का हर सदस्य महिला हो या पुरुष सभी बेहाल हैं, सब के सब दहाड़ें मार मारकर रो रहे हैं। ये नज़ारा शहर के मध्य स्थित ज़िला चिकित्सालय का है। इस परिवार का एक सदस्य एक निज़ी नर्सिंगहोम में भर्ती है उसी के लिए खाना लेकर देवर के साथ बाइक पर सवार हो आ रही उसकी भाभी को गॉव से चलते समय यह नहीं पता था कि आज उसका ये सफर उसकी जिंदगी का सबसे बुरा सफर होगा।

रास्ते में ही सारे मानकों व नियमों की धज्जियां उड़ा रहे एक हस्तलिखित नम्बर प्लेट के ओवरलोड ट्रक ने इन्हें अपने क्रूर पहियों तले रौंद दिया और पल भर में ही वो हो गया जो उसने कभी स्वप्न में भी नहीं सोंचा था। ट्रक ने रौंदा और उसकी आँखों के सामने ही उसकी गोद में चहक रही उसकी दो वर्ष की दुधमुंही बच्ची मोहिनी व 18 वर्षीय देवर की भयानक मौत हो गयी। ये खुद भी गम्भीर घायल हो गयी।

घटना से इसके भरे पूरे परिवार में तूफ़ान आ गया, सब तरफ कोहराम मच गया। स्थिति ये है कि मृतक के पिता देव प्रसाद को यह तक नहीं पता कि दुर्घटना के बाद क्या क्या हुआ…सब बदहवास हैं….. जबकि ज़िले के एएसपी सुनील सिंह घटना की पुष्टि करते हुए बता रहे हैं कि सुबह 8 से रात्रि 8 बजे तक नो एंट्री है किंतु सरकारी खाद्यान्न की रैक आने के बाद ट्रक शहर में चलते हैं। उन्होंने घटना को गंभीर मानते हुए इससे भविष्य में बचने हेतु नया प्लान बनाकर ट्रकों के संचालन में बदलाव की बात कह रहे हैं। किंतु जिस तरह से ट्रक का नम्बर प्लेट व ट्रक सरकारी खाद्यान्न से ओवरलोड दिख रहा है उससे दावे के साथ कहा जा सकता है कि ट्रक मालिक व जिम्मेदार विभागाधिकारी तथा प्रशासन व सरकार सत्ता गरीब देव प्रसाद के परिवार की बर्बादी के लिए पूरी तरह जिम्मेदार हैं।

rp_gondaविशाल सिंह, संवाददाता