देखिए- कैसे यूपी में खुलेआम हो रही है रिश्वतखोरी

शाहजहांपुर। सूबे में भले ही योगी सरकार का राज हो। सूबे की सत्ता में भले ही भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए सख्त कदम उठाए हों लेकिन सरकारी कर्मचारी सुधऱने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला एडीएम प्रसासन के कार्यालय का है। जहां पर एक खनन मे सीज ट्राली को छोडने के नाम पर कार्यालय का बाबू पहले तो पीडित कई दिनो तक दौडाता रहा।

#एक्सक्लोजिव #विडियो #रिश्वत #उत्तर_प्रदेश #cm_yogi

Posted by Ajassrpiyush on Saturday, May 27, 2017

उसके बाद कहता है कि यहां पर बिना चढावा चढाये कोई काम नही होता सीज ट्राली की फाइल पर अधिकारी की रिपोर्ट के नाम पर हजारो रूपये रिश्वत की डिमांड करता है । आखिर सीएम योगी के सख्त आदेश का खुलेआम माखौल उड़ाया जा रहा है। वो भी सरकारी कर्मचारी द्वारा इस पूरे वीडियो में साफ है कि किस तरह रिश्वतखोर हो रही है।

पीडित गोपी से रिश्वत लेते हुये बाबू का विडियो बायरल हो जाता विडियो मे रिश्वत लेते हुये दिखता हूआ बाबू कोई और नही वल्कि शाहजहांपुर अपर जिलाधिकारी प्रसासन के आफिस का बाबू प्रदीप कुमार गुप्ता है । रिश्वत लेने का विडियो अव सोशल मिडिया पर वायरल होने के बाद देखना है कि एडीएम या जिलाधिकारी अपने रिश्वत खोर बाबू पर क्या कार्यवाही करते है।