नवंबर के पहले हफ्ते में सस्ती हो सकती है प्याज

मुंबई| पिछले कुछ दिनों से लगातार ऊपर जा रही प्याज की कीमतों में अभी और तेजी आने की उम्मीद है। व्यापारियों का मानना है कि अगले कुछ दिनों में प्याज की कीमतें 60 रुपये प्रति किलो तक जा सकती हैं। हालांकि नवंबर के पहले हफ्ते में इसमें गिरावट की उम्मीद है। प्याज की कीमतें इस समय खुदरा बाजार में 35 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रही हैं। नई मुंबई के एपीएमसी बाजार के व्यापारियों के मुताबिक थोकभाव में प्याज की कीमतें 3000 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गई हैं और आनेवाले दिनों में इसमें और तेजी आने की उम्मीद है। एक व्यापारी के मुताबिक प्याज की आवक कम होने से कीमतों में और तेजी होगी।

Onion
Onion

बता दें कि थोकभाव में प्याज की कीमतों के बढ़ने का असर सीधे –सीधे खुदरा बाजार में हुआ है| यहां कीमतें 35-37 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई हैं। इस कारण से छोटे –छोटे होटलों में थालियों से प्याज गायब हो गई है और उनकी जगह पर मूली और गाजर परोसा जा रहा है। मुंबई के कई इलाकों में सड़कों पर धंधा करनेवालों ने जहां प्याज को बंद कर दिया है, वहीं होटलों में भी अगले कुछ दिनों तक प्याज बंद रहेगी।

वहीं इस समय त्यौहारी मौसम है, इसलिए प्याज की खपत में बहुत ज्यादा कमी आने की गुंजाइश कम है। प्याज की मांग बरकरार रहने से कीमतों में कमी आना मुश्किल है। व्यापारियों का कहना है कि दिवाली बीतने के बाद जब मांग थोड़ी कम होगी तो कुछ समय तक कीमतें स्थिर रह सकती हैं या इसमें थोड़ी बहुत बढ़त हो सकती है। इसी तरह से पिछले साल भी प्याज की कीमतें अचानक कुछ समय के लिए बढ़ गई थीं। लेकिन इस समय दिवाली के सीजन में प्याज की कीमतें बढ़ने से लोगों का मजा किरकिरा हो सकता है।